62 साल की इस महिला ने साड़ी पहन किया सबसे कठिन चोटी की चढ़ाई, 6129 ft ऊंचाई पर पहुंच मिसाल पेश की

1109
62 year old nagaratnamma climbs the second highest peak in kerala.

कहते हैं न, अगर हौसले बुलंद हो तो इस दुनिया में नामुमकिन कुछ भी नहीं! इसे साबित किया है, बैंगलोर (Bangalore) की रहने वाली 62 वर्षीय नागरत्नम्मा (Nagaratnamma) ने। जिन्होंने अपनी उम्र की चिंता किए बगैर हिम्मत से आगे बढ़कर केरल की दूसरी सबसे ऊंची चोटी पर चढ़ाई कर दिखाया है।

साड़ी पहनकर की चोटी पर चढ़ाई

हमने अपने आस-पास ऐसे बहुत लोगों को देखा होगा , जो 60 वर्ष के बाद किसी काम को करने से पहले अक्सर अपनी उम्र की दुहाई देते हैं। लेकिन नागरत्नम्मा (Nagaratnamma) ने पश्चिमी घाट की सबसे कठिन चोटियों में से एक अगस्त्य कूडम (केरल-तमिलनाडु बॉर्डर) नाम की चोटी पर चढ़ाई कर यह साबित कर दिखाया है कि, अगर इंसान कुछ करने की हौसला रखता है तो इस दुनिया में कोई भी ऐसा काम नहीं, जो वो नहीं कर सकता है।

सबसे खास बात यह कि नागरत्नम्मा ने साड़ी पहनकर रस्सी की मदद से अगस्त्य कूडम (केरल-तमिलनाडु बॉर्डर) नामक चोटी पर चढ़ाई की और मंजिल तक पहुंचीं।

62 year old nagaratnamma climbs the second highest peak in kerala.

नागरत्नम्मा (Nagaratnamma) की पहली यात्रा हुई सफल

साड़ी पहनकर केरल की दूसरी सबसे ऊंची चोटी पर चढ़ाई करने वाली नागरत्नम्मा की यह पहली यात्रा थी, जो सफल भी हुई। चढ़ाई पूरी करने के बाद जो उनके चहरे पर मुस्कान आई है, वो लोगों का दिल जीत रही है।
पेशे से हैं गृहणी
नागरत्नम्मा (Nagaratnamma) एक गृहणी हैं, जो पिछले करीब 40 सालों से अपने परिवार की देखभाल कर रही थीं। वे अपने घर के कामों में इतना व्यस्त रहती थीं कि कभी अपने सपने के तरफ ध्यान भी नहीं दिया। चूकि अब उनके सभी बाल-बच्चे बड़े हो गए हैं तो उन्होंने अपने सपने को उड़ान देने की कोशिश की, जिसमे उन्हे सफलता भी मिली।
उन्होंने (Nagaratnamma) बताया कि, घर के कामों में व्यस्तता के कारण कभी वक्त हीं नहीं मिला कि अपने सपने के बारे में कोई निर्णय लिया जाए। लेकिन अब मेरे सभी बच्चे बड़े हो गए तो मैंने अपने सपने को साकार करने के लिए अपना पहला कदम बढ़ाया है।

बता दें कि, कुछ दिन पहले हीं वे (Nagaratnamma) अपने बेटे और उसके कुछ दोस्तों के साथ बैंगलोर से आई थीं। उनको 16 फरवरी 2022 के दिन रोप क्लाइम्बिंग करते हुए देखा गया।

चढ़ाई का वीडियो हुआ वायरल

सोशल मीडिया पर उनका (Nagaratnamma) चोटी पर चढ़ाई वाला वीडियो मौजूद है, जिसको देखकर लोगों को खूब प्रेरणा मिल रही है तथा लोग नागरत्नम्मा की जमकर तारीफ और सराहना कर रहे हैं और साथ हीं उनके जज्बे को सलाम भी कर रहे हैं।

24 COMMENTS

  1. Bulmacada “Eski dilde kadınlar” sorusunun yanıtı
    birden fazladır. Bulmacanızda cevapta yer alan boşluk sayısına
    ve harf dizilişine göre aşağıdaki cevaplarımızdan birini seçebilirsiniz.

    5 Harfli N İ S U N 3 Harfli Z E N 4 Harfli İ N A
    S 4 Harfli N İ S A 6 Harfli N İ S V A N Cevap
    Listesi: NİSUN ZEN İNAS NİSA NİSVAN 14 Puan Ver Şikayet
    Et.

  2. Dr. Nayana Trivedi answered. 30 to 60 minutes:
    If you took Bentyl (dicyclomine) for Abdominal
    Pain /Cramps and Frequent Diarrhea it will help the Cramps first.
    And slowly your diarrhea will improve as the Peristalsis slows down. Some time it may take a
    full day to resolve the Diarrhea problem but Cramps will improve.

  3. Generic name: dicyclomine (oral/injection) [ dye-SYE-kloe-meen ] Brand names:
    Bentyl, Dibent, Dicyclocot Dosage forms: intramuscular solution (10 mg/mL); oral capsule (10 mg); oral syrup (10 mg/5
    mL); oral tablet (20 mg) Drug class: Anticholinergics
    antispasmodics Medically reviewed by on. Written by Cerner Multum.

    Uses; Warnings; Before taking.

  4. I do enjoy the way you have framed this situation and it really does provide us some fodder for thought. On the other hand, because of what precisely I have observed, I simply wish as the actual opinions stack on that men and women remain on point and don’t start upon a tirade associated with some other news du jour. Yet, thank you for this excellent piece and while I can not agree with the idea in totality, I respect your standpoint.

  5. It is actually a nice and useful piece of information. I?¦m glad that you simply shared this helpful information with us. Please stay us up to date like this. Thanks for sharing.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here