बुजुर्ग महिला के जज्बे को सलाम ! 71 वर्ष की उम्र में बुलडोजर समेत चलाती है 11 अन्य बड़ी गाड़ियां

246
71 years old kerala woman Radhamani amma drive heavy vehicles

आज के दौर में महिलाएं सभी क्षेत्रों में पुरुषों की बराबरी कर रही हैं। चाहे वे क्षेत्र राजनीति का हो, खेल का हो, किसानी का हो या फिर वो क्षेत्र ड्राइवरिंग का हो। सभी जगहों पर महिलाओं का बोलबाला है।

आज हम आपको एक ऐसी महिला से रूबरू कराने वालें हैं, जिन्होने ट्रक चालक बनकर यह साबित किया है कि महिला किसी से कमजोर नहीं होती, अगर वो ठान ले तो कुछ भी हासिल कर सकती है।

कौन है वह महिला ट्रक चालक?

हमारे यहां एक अवधारणा बनी हुई है कि बड़े-बड़े वाहनों जैसे जेसीबी, रोड रोलर, बुलडोज़र तथा ट्रक के चालक के केवल पुरुष ही होते है लेकिन थोप्पुमपाडी, केरल (Kerala) की राधामणि अम्मा (Radhamani Amma) ने सबसे इस अवधारणा को गलत साबित किया है।

बता दें कि, राधामणि (Radhamani Amma) ने 30 साल की उम्र में पति के कहने पर गाड़ी चलाना सीखा था और सबसे पहले उन्होंने कार चलाया था। धीरे-धीरे उनका ड्राइविंग के प्रति रुचि बढ़ने लगी और सन 1981 में उन्होंने सबसे पहले लाइट मोटर वेइकल लाइसेंस लिया था और सन 1988 में उन्होंने हेवी वेइकल चलाने (बस और ट्रक) का लाइसेंस प्राप्त किया था।

71 years old kerala woman Radhamani amma drive heavy vehicles

20 किस्म की भारी गाड़ियां चलाने में हैं सक्ष्म

राधामणि (Radhamani Amma) ने उस समय हेवी वेइकल चलाने (बस और ट्रक) का लाइसेंस प्राप्त किया जिस समय औरतें दो पहिया वाहन भी चलाने से हिचकिचाती थी। वर्तमान समय में उनके पास 11 तरह की भारी गाड़ियां चलाने के लाइसेंस है और वे 20 किस्म की भारी जैसे अर्थमूवर्स, फ़ोर्कलिफ़्ट, मोबाइल क्रेन, रफ़ टरेन क्रेन, ट्रेलर जैसी गाड़ियां चला सकती हैं।

यह भी पढ़ें :- बिहार के किसान ने उगाया मैजिक धान, ठंडे पानी में पकने के साथ ही शुगर फ्री भी है : Magic Rice

दूसरों को भी देती हैं ड्राइवरिंग की ट्रेनिंग

राधामणि (Radhamani Amma) का 71 साल की हो गई हैं और इस उम्र में भी उनका जज्बा वैसे हीं बरकरार है।वर्ष 2021 में उन्होंने हज़ार्ड्स गुड्स ट्रांसपोर्टेशन लाइसेंस प्राप्त किया है। वे आज के समय में सभी प्रकार के वाहनों को चलाने में सक्षम हैं। वे खुद भी वाहनों को चलाकर अपना शौक पूरा कर रही हैं तथा साथ हीं A2Z हेवी वेइकल ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट नामक संस्था चला रही हैं और उसके हीं जरिए अन्य लोगों को भी ड्राइवरिंग करना सीखा रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here