आगरा के इस शख्स ने घर को बना दिया “ग्रीन हाऊस”, घर है या गार्डन फर्क करना मुश्किल है

436
Agra man Chandrashekhar sharma turned his hiuse into greenhouse

आज के दौर में ज्यादातर युवा के पास गार्डनिंग के प्रति एक अलग हीं जूनून देखने को मिल रही है। हर कोई अपने घर के आसपास तथा अपने घर के छत और बालकनी में गार्डेनिंग करते नजर आ रहा है। कुछ ऐसा हीं गार्डेनिंग के प्रति जुनून आगरा (Agra) के रहने वाले चंद्रशेखर शर्मा के घर पर देखने को मिल रही है।

बता दें कि, चंद्रशेखर शर्मा (Chandrashekhar Sharma) ने अपने घर को हीं ग्रीन हाउस बना दिया है, जो आज के समय में लोगों के लिए एक आकर्षण का केंद्र बना हुआ है।

अपने ग्रीन हाउस में लगाया 400 विभिन्न प्रजातियों के 1,000 से अधिक पौधे

आगरा के रहने वाले चंद्रशेखर शर्मा जी (Chandrashekhar Sharma) एक सेवानिवृत्त बैंक अधिकारी हैं। उनका ग्रीनहाउस आगरा के शाहगंज की भोजीपुरा कॉलोनी में स्थित है तथा उनके ग्रीन हाउस में 400 विभिन्न प्रजातियों के 1,000 से भी अधिक पौधे मौजूद हैं।

यह भी पढ़ें :- गन्ने की खेती से राज किशोर लिख रहे सफलता की कहानी, सिरका बेचकर अच्छी कमाई कर रहे हैं

बाहर की तुलना में कम रहता है तापमान

शर्मा जी के ग्रीनहाउस में बाहर की तुलना में 4 डिग्री सेल्सियस तापमान कम रहता है। यानी अगर बाहर 40-45 डिग्री सेल्सियस तापमान रहता भी है तो उनके ग्रीनहाउस में आराम महसूस किया जा सकता है।

Agra man Chandrashekhar sharma turned his hiuse into greenhouse

वर्टिकल गार्डन के कांसेप्ट पर तैयार किया गया है घर

उनके घर में चारो तरफ केवल हरियाली हीं हरियाली नजर आती है। इतना तक कि उनके घर के दीवारों पर भी आपको हरियाली देखने को मिल जायेगी। इसके अलावें घर के छत पर भी उन्होंने काफी खूबसूरत गार्डेन तैयार किया है। उनका घर पूरी तरह से प्रकृति से जुड़ा हुआ है और प्रदूषण मुक्त भी है। उन्होंने बताया कि, इस घर को उन्होंने वर्टिकल गार्डन के कांसेप्ट पर तैयार किया है।

कई प्रजातियों के पौधे हैं शामिल

शर्मा जी (Chandrashekhar Sharma) ने अपने ग्रीन हाउस में कई प्रजातियों के पौधे को लगाया है। जिसमे चंपा, चमेली, बोगनवेलिया तथा कनेर के जैसे कई पौधे शामिल है । इसके अलावें उन्होंने अपने घर में विदेशों की कई प्रजातियों के पौधे भी लगाया हुआ है।
बता दें कि, इन्हीं पौधों के कारण इनके घर में विभिन्न प्रकार की चिड़िया आती हैं।

निधि बिहार की रहने वाली हैं, जो अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद अभी बतौर शिक्षिका काम करती हैं। शिक्षा के क्षेत्र में कार्य करने के साथ ही निधि को लिखने का शौक है, और वह समाजिक मुद्दों पर अपनी विचार लिखती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here