IIT-JEE एडवांस में 9वीं रैंक लाने वाले अर्णव बनने चाहते हैं वैज्ञानिक, ओलंपियाड में भी जीता था गोल्ड

349
Arnav got 9th rank in IIT-JEE Advance and want to be a Sciencist

यह तो हम सब जानते हैं कि भारत के ज्यादातर ऑफिसर बिहार के ही होते हैं। एक बार फिर से बिहार के छात्रों ने साबित कर दिया है कि यूपीएससी की परीक्षा से लेकर बीपीएससी तक हर जगह उनका ही बोल-बाला है।

जेईई एडवांस में बिहार का प्रदर्शन

बिहार के अर्णव आदित्य सिंह (Arnav Aditya Singh) ने जेईई एडवांस की प्रवेश परीक्षा में सफलता प्राप्त कर बिहार का नाम रोशन किया है। – Arnav Aditya Singh from Bihar cracked JEE Advanced entrance exam.

Arnav got 9th rank in IIT-JEE Advance and want to be a Sciencist

अर्णव को मिला ऑल इंडिया 9वां स्थान

अर्णव बिहार (Bihar) के भोजपुर जिले के शाहपुर थानाक्षेत्र के ईश्वरपुरा गांव निवासी कंप्यूटर इंजीनियर सियाराम सिंह (Siyaram Singh) के बड़े बेटे है, जिन्होंने जेईई एडवांस की प्रवेश परीक्षा में सफलता प्राप्त कर बिहार का नाम रोशन किया है। पिछले शुक्रवार को इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी खड़गपुर ने जेईई एडवांस्ड 2021 की प्रवेश परीक्षा का रिजल्ट घोषित किया है, जिसमें अर्णव को ऑल इंडिया में 9वां स्थान मिला है।

पढ़ाई के लिए गए कोटा

अर्णव की इस सफलता से उनका पूरा परिवार बेहद खुश है। लोग अर्णव को बधाइयां और शुभकामनाएं दे रहे हैं। अर्णव के पिता सियाराम सिंह बताते हैं कि उनका परिवार पहले बेंगलुरु में रहता था, लेकिन अर्णव की पढ़ाई के लिए वे कोटा आ गए क्योंकि वहां भैतिकी और रासायनिक की पढ़ाई अर्णव के लिए काफी नहीं थी। – Arnav Aditya Singh from Bihar cracked JEE Advanced entrance exam.

विश्व का सबसे बड़ा वैज्ञानिक बनने का सपना

अर्णव के दादा जी राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) पेशे से वकील हैं। उनका कहना है कि उनके पोते ने 9वां स्थान लाकर पूरे परिवार का मान बढ़ा दिया है। वे आगे बताते हैं कि अर्णव आदित्य सिंह (Arnav Aditya Singh) बचपन से ही पढ़ने में बहुत तेज हैं। उनका बचपन से यही लक्ष्य था कि वे विश्व के सबसे बड़े वैज्ञानिक बने। अर्णव का जन्म चेन्नई में हुआ लेकिन उनकी पूरी पढ़ाई बेंगलुरु से हुई।

Arnav got 9th rank in IIT-JEE Advance and want to be a Sciencist

अर्णव साइंस ओलंपियाड में जीत चुके है स्वर्ण पदक

राजनाथ सिंह ने बताया कि कतर के दोहा में साल 2019 में आयोजित 16वें इंटरनेशनल साइंस ओलंपियाड में अर्णव स्वर्ण पदक जीते थे। 55 देशों के छात्रों ने उस ओलंपियाड में भाग लिया था, जिसमें अर्णव को गोल्ड प्राप्त हुआ। 322 प्रतिभागीयो में से केवल 6 छात्रों ने ही गोल्ड मेडल प्राप्त किया है, जिसमें से बिहार के अर्णव आदित्य सिंह भी थे। – Arnav Aditya Singh from Bihar cracked JEE Advanced entrance exam.

236 साल पहले के दावों को साबित किए गलत

इंडियन सोसाइटी ऑफ फिजिक्स टीचर्स के अध्यक्ष प्रो विजय सिंह और उनके छात्र अर्णव आदित्य ने सर विलियम जोंस के 236 साल पहले किए गए दावों को गलत साबित कर दिया। दरअसल अर्णव और प्रो सिंह का कहना था कि करीब 236 साल पहले प्रसिद्ध ओरिएंटलिस्ट और एशियाटिक सोसाइटी के संस्थापक सर विलियम जोंस ने भागलपुर से भूटान के माउंट जोमोल्हरी चोटी को नहीं बल्कि कंचनजंघा को देखा होगा, परंतु उनका कहना था कि लॉकडाउन के दौरान वायुमंडल में हानिकारक कणों के घनत्व में गिरावट और हवा साफ होने से भारत के उत्तरी मैदानी भाग से हिमालय की कई चोटियां देखी गईं हैं।

Arnav got 9th rank in IIT-JEE Advance and want to be a Sciencist

प्रो सिंह और अर्णव ने कोलब्रुक के पूर्णिया आधारित टिप्पणियों का विश्लेषण किया

सर विलियम जोंस के अनुसार उन्होंने यह दावा किया कि माउंट जोमोल्हरी 7326 मीटर ऊंचा है और इसके शिखर से अधिकतम दूरी 216 किलोमीटर तक देखी जा सकती है जबकि माउंट जोमोल्हरी शिखर और भागलपुर के बीच की दूरी 366 किलोमीटर है। पूर्णिया से भी 1790 में माउंट जोमोल्हरी और हिमालय की कुछ चोटियों के दृश्य देखने की बात विलियम जोंस ने उत्तराधिकारी रहे हेनरी कॉल ब्रिज ने कही थी। कोलब्रुक के पूर्णिया आधारित टिप्पणियों का विश्लेषण कर प्रो सिंह और अर्णव ने पाया कि विलियम जोंस द्वारा देखी गई चोटी कंचनजंघा रही होगी। – Arnav Aditya Singh from Bihar cracked JEE Advanced entrance exam

6 COMMENTS

  1. I don’t even know how I finished up right here, however I believed this
    put up was once good. I don’t realize who you are but certainly
    you’re going to a famous blogger when you aren’t already.

    Cheers!

  2. I would like to thank you for the efforts you’ve put in writing this blog.
    I am hoping to check out the same high-grade
    blog posts from you in the future as well. In truth, your creative writing abilities has encouraged me to get my own, personal site now
    😉

  3. Excellent article. Keep writing such kind of info on your site.Im really impressed by your site.Hello there, You’ve performed a fantastic job. I will definitely diggit and for my part recommend to my friends. I’m sure they will be benefited from this website.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here