गन्ना उत्पादन में निरन्तर लिख रहे हैं सफलता की इबारत, मिल चुका है सम्मान: पढ़िए पूरी कहानी

366
Gonda Farmers producing sugarcane and get success

कोई भी कार्य छोटा या बड़ा नहीं होता बस आपको उस कार्य को करने के तकनीक के बारे में जानकारी होनी चाहिए और आपके प्रयास उसके अनुरूप होने चाहिए।ऐसे कई लोग हैं जो आज भी खेती को घाटे का सौदा मानते हैं वहीं आज कई किसान ऐसे भी हैं जो बेहतरीन पद्धति को अपनाकर खेती से करोड़ों रुपए कमा रहें हैं।

आज की हमारी यह कहानी गोंडा के किसान की है, जिन्होंने तकनीक को अपना हथियार बनाया और गन्ने खेती में सफलता हासिल कर अन्य किसानों के लिए सफलता की पराकाष्ठा पेश की।

Gonda Farmers producing sugarcane and get success

कर चुके हैं पॉलीटेक्निक की पढ़ाई

अनिल चंद पांडेय (Anil Chand Pandey)जो गोंडा से ताल्लुक रखते हैं। उन्होंने पॉलिटेक्निक की पढ़ाई की है और आज मॉर्डन तरीके से गन्ने की खेती कर रहे हैं। उन्होंने साल 20-21 में स्टेट लेवल गन्ना कम्पटीशन में हिस्सा लिया था। उन्होंने सीओ.0118 नाम के बीज की बुआई ट्रेंच विधि से की थी। इसके साथ उन्होंने अपने खेतों में लहसुन भी उगाया था।

Gonda Farmers producing sugarcane and get success

1 हेक्टेयर में हुआ बहुत लाभ

अब फसल को बोने के बाद उन्होंने उसका ध्यान रखा जिसकी बदौलत उन्हें अधिक आय की प्राप्ति हुई। उन्हें 1 हेक्टेयर क्षेत्रफल में 1662 क्विंटल गन्ने की पेड़ी एवं 150 क्विंटल लहसुन का उत्पादन हुआ है। उन्होंने यह जानकारी दिया कि हम गन्ने के खेत में आलू, लहसुन और प्याज को भी उगाकर अधिक-से-अधिक लाभ कमा सकते हैं।

Gonda Farmers producing sugarcane and get success

मिल चुका है सम्मान

वर्ष 20-21 में स्टेट लेवल पर उनके नाम की घोषणा हुई। संजय आर.भुसरेड्डी ने चीनी एवं गन्ना उद्योग के लिए विभिन्न रिजल्ट पारित की। गन्ने के शीध्र पौधा उत्पादन में बिजनौर के सुभाषचन्द को पहला स्थान, लखीमपुरखीरी के राजेन्द्र देवी को दूसरा एवं अचल कुमार को तीसरा स्थान प्राप्त हुआ।

Gonda Farmers producing sugarcane and get success

वही पेड़ी के उत्पादन में पलविंदर सिंह को प्रथम स्थान, अनिलचन्द पांडेय को दूसरा और प्रीतम को तीसरा स्थान प्राप्त हुआ। ओपी सिंह जो कि गन्ना अधिकारी हैं उन्होंने यह बताया कि गोंडा जिला ने स्टेट लेवल पर गन्ना कम्पीटिशन में लगातार दूसरे साल सफलता हासिल की है। यह हमारे जिले के लिए बहुत ही गर्व की बात है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here