बेटे को पढ़ाने के लिए पिता ने बेच दी जमीन, अब बेटे को Google ने दिया 1 करोड़ का पैकेज

253
Google gave a package of 1 crore to Jyotish Kumar of Begusarai Bihar

आज कल की हर युवा पीढ़ी काफी पढ़ लिख कर कामयाबी को हासिल करना चाहती। हर युवा चाहता हैं की वह अपनी जिंदगी में कामयाब इंसान बने। साथ ही साथ हर माता–पिता भी अपने बच्चे को जिंदगी में आगे बढ़ता देखना चाहते हैं जिसके लिए वो हर वो चीज करते हैं जिससे उनका बच्चा अपने सपने को साकार कर सके। एक पिता अपने बच्चे को पढ़ाने के लिए कर्ज में भी डूबने को तैयार होता हैं क्युकी पिता चाहता हैं की जो गरीबी उसने देखी है आने वाले समय में वो चीज उसका बच्चा ना देखे। जिसके लिए वे किसी भी हद तक कड़ी मेहनत करने को तैयार हो जाता हैं। और माता पिता के लिए बेहद गर्व की बात तो तब होती हैं जब उनका बच्चा जी तोड़ मेहनत कर अपनी सफलता को हासिल कर उनका नाम रोशन करता हैं।

आज एक ऐसे ही युवक की कहानी। जिसने अपनी एक अलग पहचान बनाई और अपनी मंजिल को हासिल कर गोगल (Goggle) में नौकरी पाई और अपने माता पिता नाम गर्व से ऊंचा किया और अपने पिता द्वार की गई मेहनत और संघर्ष से आज ज्योतिष उचाइयों को छू रहे है।

**कौन है वो युवक…..

आज हम जिस युवक की बात कर रहे है उसका नाम ज्योतिष कुमार (Jyotish kumar) है जो बेगूसराय (Begusarai) के रहने वाले है। जो अब लगभग 30 वर्षीय के है। जिन्होने एक ऐसी सफलता को हासिल किया है जिस सफलता को हासिल करने के लिए लोग तरस रहे हैं क्युकी आज के समय कौन नही चाहता की उनकी नौकरी भी गोगल जैसी कंपनी में लगे। लेकिन ज्योतिष ने अपनी मेहनत और लगन से गूगल में अच्छे पैकेज के साथ नौकरी हासिल कर अपने माता पिता का नाम रोशन कर रहे है।

यह भी पढ़ें:- पिता ने कर्ज लेकर पढ़ाया, अब दोनों बेटियों ने एक साथ पास की दारोगा भर्ती की परीक्षा

** मेहनत कर पूरी की पढ़ाई….

ज्योतिष जो बचपन से ही पढ़ाई में काफी रुचि रखते थे। वे बचपन से ही कुछ ऐसा हासिल करना चाहते थे जिससे वह अपनी एक अलग पहचान बना सके। वे चाहते थे की वह इंजीनियर बने और एक अच्छी नौकरी हासिल करे। अगर इनकी पढ़ाई को बात की जाए तो 10 वी की शिक्षा पूरी होने के बाद। वह इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए आगे बड़े।

**काफी मेहनत कर पढ़ाया पिता ने…..

हर पिता अपने बच्चो को ऊपर उठता देखना चाहते हैं वह यही चाहता हैं की जो सपना उनके बच्चो ने देखा हैं वो उसको पूरा करे। जब ज्योतिष के पिता ललित कुमार (lalait kumar) को पता चला की उनका बेटा इंजिनर बन एक अच्छी नौकरी हासिल करना चाहता हैं जिसके लिए उन्होंने बिना सोचे समझे अपनी जमीन बेच दी और जमीन के मिले पैसे से अपने बेटे के सफर में उसका साथ दिया और उसका दाखिला हरियाणा के एनआईटी कुरुक्षेत्र कराया।

**ललित कुमार ने दिया अपने बेटे के सफर में साथ……

ललित कुमार जिन्होने अपने पिता होने के कर्तव्य को बेहद ही अच्छे रूप से निभाया और वह आगे भी अपने बेटे के सफर में उसके साथ चल रहे है। जिसमे पिता और बेटे एक दूसरे का साथ दे कर घर की स्थिति को भी संभाल रहे है वे साथ ही साथ अपनी पढ़ाई पर भी पूरा ध्यान दे रहें हैं। ललित कुमार जो साथ ही साथ बच्चो को ट्यूशन दे रहे। जिससे उनके बेटे की पढ़ाई में कोई बाधा ना आए और वही दूसरी तरफ ज्योतिष भी अपने पिता के द्वारा की जा रही मेहनत से अपने पढ़ाई को पूरा करने में लगे हुए है वे साथ ही साथ वो भी जॉब करने में लगे हुए है। जिससे उन्होंने बीटेक की डिग्री वे साथ ही साथ एमटेक की डिग्री हासिल कर चुके है लेकिन उन्होंने इसके बाद भी पढ़ाई को नही छोड़ा। जिसके बाद उन्होंने पीएचडी की शिक्षा पूर्ण की।

यह भी पढ़ें:- प्यार में धोखा मिला तो शुरु किया चाय का स्टॉल, अब हर महीने लाखों रुपये की कमाई कर रहे हैं: Bewafa Chai Wala

**हासिल किया अपने सपने को…..

आखिर कर ज्योतिष द्वारा की गई मेहनत सफल हुई। क्युकी उन्हे अब ऐसी जगह से नौकरी का ऑफर आया था जहा उनका पैकेज करोड़ रुपए का है जिसके लिए लोग जी तोड़ मेहनत कर दिन रात एक कर देते हैं जी हां ज्योतिष को गूगल की तरफ से नौकरी का ऑफर मिला । जिसमे उन्होंने इंटरव्यू और परीक्षा द्वारा चयन हुआ। अब ज्योतिष को गोगल की तरफ से लैपटॉप और सिस्टम मिला जिसपे वह अपना काम करेंगे।

**मेहनत का फल मिला…..

ज्योतिष जिनको इतनी अच्छी नौकरी मिलने के बाद, उनके माता–पिता इतने खुश है की आज उनके बेटे के द्वारा देखा गया सपना सच हुआ।ज्योतिष को मिली यह सफलता में सबसे बड़ा हाथ उनके पिता का है क्युकी जितनी मेहनत ज्योतिष द्वारा की गई उससे ज्यादा उनके पिता ने अपने बेटे के सफर में उसका साथ दिया और इस नौकरी के बाद उनका पूरा परिवार खुशी से झूम रहा है और चारो तरफ खुशियां ही खुशियां है।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here