गुजरात के इस दम्पति ने नौकरी छोड़ शुरु किया मधुमक्खी पालन का काम, अब लाखों रुपये की कमाई कर रहे हैं

852
Gujarat couple tanvi ben patel and himanshu patel earns lakhs by beekeeping organic farming

हमलोगों ने महसूस किया होगा कि आज के समय में नई पीढ़ी के कुछ लोग जो कृषि के क्षेत्र में कुछ नया करने का चाहत रखते हैं आधुनिक खेती के तरफ ध्यान दे रहे हैं। यह साबित भी हो गया है कि आधुनिक खेती तथा छोटे-मोटे कारोबर के सहारे भी अच्छी-खासी कमाई की जा सकती है।

आज हम बात करेंगे एक ऐसी महिला की, जिन्होनें शिक्षिका की नौकरी छोड़ अपने पति के साथ जैविक खेती और मधुमक्खी पालन शुरु किया, और आज के समय में वे दोनों अच्छी-खासी कमाई कर रहे हैं।

तो आइए जानते हैं उस महिला और उसके कारोबार से जुड़ी सभी जानकारियां:-

कौन है वह महिला?

हम बात कर रहे हैं तन्वी बेन पटेल (Tanvi Ben Patel) की, जो मूल रुप से गुजरात (Gujarat) की रहने वाली हैं। उनके पति का नाम हिमांशु पटेल है। तन्वी बीएड की हुई है और उनके पति हिमांशु ने मैकेनिकल इंजीनियरिंग किया है। वे दोनों 10 सालों से प्राइवेट जॉब कर रहे थे। इनका परिवार बहुत पहले से ही खेती से जुड़ा है, लेकिन वे लोग बिजनेस के लिहाज से खेती नहीं कर रहे थे। उनके परिवार के खेती करने का उद्देश्य यह था कि उतना हीं भर खेती की जाए जिससे खाने-पीने की व्यवस्था हो जाये।

Gujarat farmer tanvi ben patel earns lakhs  by beekeeping organic farming

नौकरी छोड़ शुरु की ऑर्गेनिक खेती

आज के समय में ऑर्गेनिक फार्मिंग का क्रेज बढ़ गया है इसके साथ हीं तन्वी पटेल (Tanvi Ben Patel) और उनके पति ने यह तय किया कि थोड़ी सी जमीन पर ऑर्गेनिक फार्मिंग की जाए। इसके बाद साल 2017 में उनलोगों ने गुजरात के पाटन में ऑर्गेनिक फार्मिंग की शुरुआत की। पहली बार फसल अच्छी हुई और प्रोडक्शन भी बढ़िया हुआ, लेकिन बाद में दिक्कत होने लगी। दरअसल फसल के फूलों के ऊपर कीड़े लग रहे थे क्यूंकि वे लोग फसल पर पेस्टिसाइड का उपयोग नहीं करते थे, इसलिए कीड़े को कंट्रोल करना मुश्किल हो रहा था।

यह भी पढ़ें :- गार्डनिंग से इस महिला ने अपने घर को बना दिया स्वर्ग, गार्डन में 600 पौधें मौजूद हैं : तस्वीरें देखें

मधुमक्खी पालन का मिला सुझाव

फसल पर कीड़े की परेशानी से जुझ रहे तन्वी बेन पटेल और उनके पति को किसी ने सुझाव दिया कि अगर मधुमक्खी पालन की जाए तो इन कीड़ों को फैलने से रोका जा सकता है। इसके बाद उनलोगों ने राजस्थान से मधुमक्खीयों के 10 बॉक्स मंगाए और खेत के बीच रख दिए। इसका फायदा यह हुआ कि फसल पर कीड़े लगना बंद हो गए और पहले ही महीने शहद का प्रोडक्शन भी अच्छा खासा हो गया। तब उनलोगों के मन में यह बात आई कि शहद का बिजनेस भी आसानी से किया जा सकता है।

Gujarat farmer tanvi ben patel earns lakhs by beekeeping organic farming

शुरु की मधुमक्खी पालन

इसके बाद तन्वी बेन ने मधुमक्खी पालन की शुरुआत करने का मन बनाया, इसके लिए वे ट्रेनिंग लेने ‘खादी एंड विलेज इंडस्ट्रीज कमीशन, अहमदाबाद’ गई, जहाँ से उन्होंने इसकी ट्रेनिंग ली और दो बॉक्स के साथ अपना पहला कदम बढ़ाया। इसके बाद बेहतर नतीजे देख, उन्होंने करीब चार लाख की लागत से सौ बॉक्स खरीदे। इस तरह उनकी आमदनी अच्छी-खासी हो गई। आज के समय में उनके पास 300 छत्ते हैं, जिससे करीब 9 टन शहद का उत्पादन होता है।

Gujarat farmer tanvi ben patel earns lakhs by beekeeping organic farming

सोशल मीडिया के जरिए बेचती है शहद

तन्वी और हिमांशु (Tanvi and Himanshu) अपने इस मधुमक्खियों के शहद को सोशल मीडिया के जरिए बेचते हैं। इन दोनों ने अपने व्यवसाय को एक ब्रांड बना लिए हैं। इनका यह ब्रांड “स्वध” के नाम से चलता है। तन्वी और हिमांशु ने अपने व्यवसाय को बढ़ाने के लिए काफी मेहनत और परिश्रम किया है। वे लोग अपने शहद के व्यवसाय को ज्यादा बढ़ाने के लिए आस-पास के व्यापारियों से संपर्क करके उन्हे अपना उत्पादन बेचते हैं।

अच्छी है कमाई

वर्तमान में तन्वी और हिमांशु के पास लगभग 300 मधुमक्खी के छत्ते हैं। यह दोनों प्रत्येक साल लगभग 9 टन शहद निकालते हैं। इसे व्यवसायों के पास बेचकर प्रत्येक साल 12 लाख रूपये की कमाई करते हैं। यह दोनों मधुमक्खी पालन (Beekeeping) जैविक तरीके (Organic Method) से करते हैं। दोनों दंपति अपने इस काम में काफी मेहनत और लगन के साथ करते हैं।

Gujarat farmer tanvi ben patel earns lakhs by beekeeping organic farming

लोगों के लिए बने प्रेरणा

नौकरी छोड़ जैविक खेती और मधुमक्खी पालन करने वाले तन्वी बेन और हिमांशु पटेल (Tanvi Ben and Himanshu Patel) ने अपने मेहनत के बदौलत सफलता हासिल करते हुए समाज के लोगों का अपनी तरफ ध्यान आकर्षित करवाया है। उन्होंने अपने मेहनत और सफलता से समाज को इस बात से अवगत कराया है की अगर सही तरीके से खेती और कारोबार में भी ध्यान दिया जाए तो यह फायदे का सौदा है तथा इसके सहारे अच्छी कमाई की जा सकती है।

23 COMMENTS

  1. Pretty element of content. I simply stumbled upon your site and in accession capital to claim that I acquire actually enjoyed account your blog posts. Anyway I will be subscribing to your feeds and even I achievement you access persistently quickly.

  2. I happen to be commenting to make you know of the magnificent experience my cousin’s child had studying your site. She figured out too many pieces, which include what it’s like to have a very effective giving style to let other people very easily have an understanding of chosen advanced matters. You undoubtedly did more than her desires. I appreciate you for providing such warm and helpful, trusted, explanatory and in addition cool tips on this topic to Evelyn.

  3. Good V I should certainly pronounce, impressed with your web site. I had no trouble navigating through all the tabs as well as related info ended up being truly easy to do to access. I recently found what I hoped for before you know it in the least. Quite unusual. Is likely to appreciate it for those who add forums or anything, website theme . a tones way for your client to communicate. Excellent task..

  4. What i don’t understood is in truth how you are not actually a lot more smartly-favored than you might be right now. You are very intelligent. You already know thus significantly when it comes to this subject, made me personally consider it from numerous numerous angles. Its like men and women don’t seem to be interested unless it is one thing to do with Woman gaga! Your personal stuffs great. Always handle it up!

  5. You really make it seem really easy along with your presentation however I to find this topic to be actually something that I think I might never understand. It seems too complicated and extremely huge for me. I’m looking forward to your subsequent publish, I will try to get the dangle of it!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here