Cyclone की जानकारी देने की मिली सटीक जानकारी, IIT खड़कपुर के इस खोज से बचेंगे लाखों जान

6707
an amazing way developed by iit kharagpur to detect cyclones

जैसा कि हम सब देखते हुए आ रहे है कि अचानक से आया हुआ तूफान या कोई भी परेशानी मानव जाति को कितना हानि पहुँचाती है, तो सोचिए अगर ऐसा हो जाए कि कोई भी तूफान आने से पहले हमें उसके बारे में पता चल जाए तो हमे कितना लाभ हो सकता है।हम बहुत गर्व से ये बात आप सबको बताने जा रहे है कि भारतीय वैज्ञानिकों ने इसे सच कर दिखाया है, तो आइए विस्तार से जानते है इसके बारे में।

IIT खड़गपुर के वैज्ञानिकों ने खोजा-

आपको बता दे कि IIT खड़गपुर के वैज्ञानिकों ने ऐसी तकनीक खोजी है, जिससे कि उत्तरी हिन्द महासागर के छेत्र के उपर बनने वाली उषनकाटीबधिये चक्रवातों का आने से पहले अनुमान लगा लेगा, इसकी खास बात ये है कि ये तकनीक सैटेलाइट के सूचना देने से पहले चक्रवात के बनने का पता लगा लेगा।

इसके पहले चक्रवातों के बनने की सबसे तेज जानकारी रिमोट सेंसिंग के द्वारा पता चलती थीं, लेकिन आपको इस बात से हम अवगत करा देते है कि रिमोट सेंसिंग तभी काम करता है जब समुन्द्र के पानी की उपरी सतह गर्म हो और कम दवाब का छेत्र बन रहा हो, इस तकनीक से चक्रवात से बचने का समय मिल जाता है।

कैसे आता है तेज तूफान-

जब समुन्द्र के सतह पर गर्म वातावरण रहे तब चक्रवात आने से पहले हमारे वातावरण में अस्थिरता आने लगती है, इसके साथ ही हवा भवरदार बनने लगती है इस कारण हमारे वातावरण में उथल-पुथल शुरु हो जाती है, उसके बाद जो बवंडर आता है वही आगे चलकर तेज तूफान में बदल जाता है, इसके कारण समुन्द्र की सतह के उपर कम दवाब का छेत्र बन जाता है, इन्ही कारणों की वजह से तेज तूफान आने की संभावना के बारे में पता चलता है।

 

आगे के तकनीक की की खोज-

आपको बता से की IIT खड़गपुर के वैज्ञानिकों ने इससे आगे की खोज की है, इस तकनीक में बवंडर का पता लगाने वाली तकनीक का इस्तेमाल किया जाता है, इसके साथ ही आप इस बात की भी चेतवानी दे सकते है की उत्तर हिन्द महासागर छेत्र में ट्रॉपिकल साइक्लोन बनने की क्या स्थिति है, IIT खड़गपुर के जिया अल्बर्ट, विष्णुप्रिया साहू और प्रसाद भास्करन जैसे वैज्ञानिकों की टीम ने विज्ञान और प्रोधोगिकी विभाग के सहयोग से जलवायु परिवर्तन कार्यक्रम ( सीसीपी) के तहत इस नई तकनीक की खोज की है, इस शोध को “एटमॉसफेरिक रिसर्च” नामक पत्रिका में प्रकाशित भी किया गया है।

 

वैज्ञानिकों द्वारा खोजे गए इस नई अविष्कार के तहत हम बवंडर और भवंरदार आने के पहले ही इसका पता लगा सकते है, वैज्ञानिक भवरदार हवा का विश्लेषण करने के लिए दो चीज़ो के बीच के न्यूनतम दूरी को आधार बनाते है और इसकी पहचान के लिए 27 किलोमीटर के मोटे ग्रिड रेजोल्यूशन और एडी भवरों की विशेषताओ का मूल्यांकन करने के लिए नौ किलोमीटर के बेहतर रेजोल्यूशन की मदद ली है, आपको बता दे कि इसकी मदद से जो तश्वीरें सामने आएंगी उसका मूल्यांकन करके पता चल जाएगा कि तूफान की भावी दशा और दिशा क्या हो सकती है।

आपको बता दे कि इस अविष्कार के बाद आये चार घातक तूफानों को विषय बनाया गया था जिसमें फाईलीन ( 2013), वरदाह ( 2013), मादी (2013), गाजा (2018), इसके बाद दो तरह के तूफान मानसून के बाद आए मोरा (2017), और आयला (2009) में जो उत्तर हिन्द महासागर के ऊपर बने थे, वैज्ञानिकों का दावा है कि इस तकनीक से आप तूफान आने के चार दिन पहले गु सतर्क हो सकते हैं, जिसमे मॉनसून और मॉनसून के बाद आने वाले दोनो तूफान शामिल हैं।

 

इस अनोखे खोज के लिए हम सारे वैज्ञानिकों को सराहते है इसके साथ ही उन्हें ढ़ेर सारी शुभकामनाएं भी देते हैं।

अनामिका बिहार के एक छोटे से शहर छपरा से ताल्लुकात रखती हैं। अपनी पढाई के साथ साथ इनका समाजिक कार्यों में भी तुलनात्मक योगदान रहता है। नए लोगों से बात करना और उनके ज़िन्दगी के अनुभवों को साझा करना अनामिका को पसन्द है, जिसे यह कहानियों के माध्यम से अनेकों लोगों तक पहुंचाती हैं।

46 COMMENTS

  1. Howdy very cool site!! Man .. Beautiful .. Superb .. I will bookmark your web site and take the feeds also…I am happy to find so many useful information here in the publish, we want develop extra techniques in this regard, thanks for sharing. . . . . .

  2. Hi there! Someone in my Myspace group shared this website with us so I
    came to look it over. I’m definitely loving the information. I’m bookmarking and will be tweeting this to my followers!

    Fantastic blog and brilliant design.

  3. Great goods from you, man. I’ve understand your stuff
    previous to and you’re just too wonderful. I really like what you’ve acquired here, really like what you are stating and the way
    in which you say it. You make it entertaining and
    you still take care of to keep it wise. I can’t wait to read
    far more from you. This is actually a great web site.

  4. you are actually a just right webmaster. The website loading speed is amazing.
    It sort of feels that you are doing any unique trick.
    Also, The contents are masterpiece. you’ve done a excellent job on this
    matter!

  5. Heya this is kinda of off topic but I was wondering if blogs use WYSIWYG editors or if you have to manually code with HTML.
    I’m starting a blog soon but have no coding knowledge so I
    wanted to get guidance from someone with experience. Any help would
    be greatly appreciated!

  6. I am really loving the theme/design of your web site.
    Do you ever run into any browser compatibility issues?
    A number of my blog audience have complained about
    my site not operating correctly in Explorer but looks great
    in Opera. Do you have any recommendations to help fix this problem?

  7. I blog often and I truly thank you for your content.
    This article has truly peaked my interest. I’m going
    to take a note of your site and keep checking for new details about once per week.

    I opted in for your RSS feed as well.

  8. I believe that is among the most important information for me.
    And i’m happy studying your article. But should commentary on few general things, The website taste is wonderful,
    the articles is in reality nice : D. Just right task, cheers

  9. I know this iif ᧐ff topic but I’m looking into
    ѕtarting mmy own weblog and was curious wat all is required to get setup?
    I’m assuming havin a blog like yours would cost a pretty penny?
    I’m not very web savvy so I’m noot 100% sսre. Any suggeѕtions
    oг advice would be greatly appreciated. Cheers

    Stop bү my blog; dorahoki

  10. электророхли
    [url=https://samokhodnyye-elektricheskiye-telezhki.ru]https://samokhodnyye-elektricheskiye-telezhki.ru[/url]

  11. Hello, Neat post. There is a problem along with your site in web explorer, might check this?
    IE nonetheless is the marketplace chief and a large element of folks will omit your wonderful writing because of this problem.

  12. Have you ever thought about including a little bit more than just your articles?
    I mean, what you say is important and all. However think of if
    you added some great visuals or videos to give your posts more,
    “pop”! Your content is excellent but with images and videos, this site could definitely be one of the very best in its field.
    Superb blog!

  13. Lagi-lagi permainan slot online dikenal kakek
    zeus dari Pragmatic play ini masuk ke dalam daftar permainan judi slot gacor mudah menang sehingga selalu jadi favorit
    para penghobi judi slot di Asia. RANSSLOT88 slot gacor hari ini live streaming gacor hari
    ini mungkin ialah permainan judi online paling seru serta mengasyikkan dapat agan mainkan. Penyedia
    terkenal satu ini punya win rate sampai 97,80% sehingga menjadikan nya penyedia
    slot gacor dengan permainan slot nya seperti Sword Warriors, Mega Phoenix, Spin City, Perfect Pairs
    Blackjack, dan permainan slot lainnya yang tidak kalah seru.
    Produsen slot online ini mempunyai banyak game yang sangat
    seru dengan tingkat kemenangan tinggi yang jelas permainan slotnya selalu menjadi incaran buat para pemain judi slot.

    Sebagai situs resmi judi daring terbaik tentunya berniat para
    member meraih keuntungan serta membantu mencapai tujuan para player untuk memperoleh jp besar hingga ratusan juta rupiah.

    Bagi para pemain judi berpengalaman pastinya mengetahui ciri
    – ciri web judi daring resmi terbaik salah satu sample nya seperti RANSSLOT88 yang kini jadi
    website terlengkap dengan menawarkan bervariasi bonus jackpot terbesar buat para playernya,
    apabila ingin langsung main juga dapat mendapat seperti
    bonus cashback, bonus rollingan, bonus setoran dan bonus lainnya.

  14. I have been surfing on-line more than three hours today, but I never found any attention-grabbing article like yours. It’s lovely worth enough for me. Personally, if all web owners and bloggers made excellent content material as you probably did, the internet might be much more useful than ever before.

  15. I¦ve been exploring for a little bit for any high-quality articles or weblog posts on this kind of space . Exploring in Yahoo I finally stumbled upon this web site. Studying this information So i¦m glad to exhibit that I have an incredibly just right uncanny feeling I came upon just what I needed. I most indubitably will make certain to do not fail to remember this site and provides it a glance on a constant basis.

  16. Attractive part of content. I simply stumbled upon your weblog and in accession capital to claim that I acquire in fact enjoyed account your blog posts. Anyway I’ll be subscribing for your feeds and even I success you access consistently rapidly.

  17. The assignment submission period was over and I was nervous, safetoto and I am very happy to see your post just in time and it was a great help. Thank you ! Leave your blog address below. Please visit me anytime.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here