टूथपेस्ट, शैम्पू से लेकर क्लीनर तक सबकुछ घर पर बनाना सीखें: जानें यह आसन तरीका

3218
eco friendly life style

हम कभी भी अपने आस-पास या अपने शहर में गंदगी देखते है ये जरूर कहते है कि कितनी गंदगी, परन्तु हम कभी भी इस बात पर ध्यान नही देते की हम कितनी गंदगी फैला रहे है, अगर हम सब अपने घर से निकलने वाले कचरे पर ध्यान दे तो हमारा नीवं जीरो वेस्ट बन सकता है, और आस पास गंदगी भी नही देखनी पड़ेगी। तो ये कैसा होगा आइए जानते है।

 

ज्योत्सना जैन का परिचय-

ज्योत्सना पंजाब खव लुधियाम की रहने वाली है, उनकी आयु 23 वर्ष है। ज्योत्सना पर्यावरण प्रेमी है, अपना ग्रेजुएशन पूरा होने के बाद उन्होंने “क्लाइमेट चेंज” पर एक वीडीओ देखा और इस वीडीओ से प्रभावित होके उन्होंने सोचा कि वह भी अपने जीवन को इको फ्रेंडली बनाएंगी। 2 साल से ज्योत्सना ने अपने जीवन मे बदलाव कर ज़ीरो वेस्ट वाले जीवन का लुत्फ उठा रही हैं और साथ ही साथ पर्यावरण को स्वच्छ रखने में अपना योगदान भी रही है।

क्या है “जीरो वेस्ट” का मतलब-

ज्योत्सना के लिए जीरो वेस्ट का मतलब है अपने जीवन से केमिकल वाली चीज़ो की जगह उन सब चीज़ो को इस्तेमाल करना जिससे हमारे पर्यावरण को कोई नुकसान ना हो, अपने घर के कचरे का सही इस्तेमाल करना ताकि वो पर्यावरण को कोई हानि ना हो और सबसे जरूरी अपनी निर्भरता बड़ी कंपनियों पर कम करना।

धीरे-धीरे करें शुरुआत-

वो कहती है कि जब मैंने जीरो वेस्ट वाली जीवनशैली को चुना तो मुझे ये बात समझ मे आयी कि बदलाव कुछ दिनों में नही आएगा, बल्कि धीरे-धीरे ही आपकी आदते बदलेंगे, इसलिए हमें दुसरो पर ध्यान नही देना है ना ही दूसरे लोगो को कोई सलाह देनी है, हमे अपना काम ईमानदारी से करना है हमे देख के खुद ही लोगो की मानसिकता बदलने लगेगी, और वो भी पर्यावरण के बारे में सोचने लगेंगे।

सबसे पहले उन्होंने प्लास्टिक का कम इस्तेमाल करना शुरू किया इसके लिए उन्होंने बाजार से कपङे के बैग खरीदे जिसमे वो घर का समान ला सके, उन्होंने अपने घर मे कुछ कपडे के बैग लटका दिए, कुछ कार में रख दिए। उनका कहना है कि हम बाजार से चीज़े तो खरीद सकते है पर इनका इस्तेमाल करना भूल जाते है इसलिए इन्हें ऐसी जगह रखे ताकि आपको याद आये और आप इनका इस्तेमाल करे।

उनका कहना है कि वो किराने का सामना भी अब कपड़े के बैग में लेने जाती है, दाल-चावल और स्टील के डिबो में वो तेल और आटा लेके आती है। वो हमेशा इस बात का ध्यान रखती है कि उन्हें सारी चीज़े कपड़े के बैग में
में और कांच के डिबो में मील, परन्तु अगर उनके घर मे प्लास्टिक आ जाता है जिसको वो रीसायकल नही कर सकती तो वो उसका “इको ब्रिक” बना लेती है।

जब भी वो बाहर जाती है तो अपने साथ कटलरी किट( जिसमें चम्मच, फोर्क, स्ट्रॉ होती है) ले जाती है ताकि बाहर की प्लास्टिक की चीज़ें उन्हें इस्तेमाल नही करनी पड़े। वह अपना पानी का बोत्तल भी साथ रखती है ताकि उन्हें वो खरीदना ना पड़े, अगर वो कोई चीज़ खरीदती भी जी जिसका रैपर प्लास्टिक का हो तो उसे वो बाहर नही फेकती उसे अपने बैग में रख लेती है ताकि बाहर कचरा ना फैले।

कचरे को करती है रीसायकल-

ज्योत्सना का कहना है कि जब हम कही बाहर घूमने जाते है तो खाने की चीज़ो की वजह से कचरा फैलता है जैसे-बिस्कुट, चॉकलेट आदि के रैपर से। उनका कहना है कि वो इन कचरों को अपने कपडे वाले बैग में रख लेती है और घर आके उन्हें अलग-अलग करती है। गीले कचरे का इस्तेमाल कम्पोस्टिंग में हो जाता है वही सूखे कचरे को रीसायकल कर लेती है। और जिस कचरे को वो रीसायकल नही कर पाती है उसे अलग रखती है जब ये अधिक मात्रा में जमा हो जाता है तब वो इन कचरों को कचरे रेसीयकलर्स को दे देती है।

केमिकल वाले चीज़ो का किया त्याग-

ज्योत्सना ने प्लास्टिक की चीज़ो के बाद अपने घर पर केमिकल वाले चीज़ो के इस्तेमाल को रोकने की सोची। उनका कहना हैं को अपने घर के फर्श को साफ करने के लिए हम जिन क्लीनिंग एजेंट्स इस्तेमाल करते है उनमें बहुत सारे केमिकल होते है, इसलिए उन्होंने पर्यावरण के अनुकूल विकल्प तलाशे और निम्बू, संतरे और किंनु जैसे फलो के छिलके फेकने के बजाए इनसे ” बायोएंजाइम” बनाने लगी और इसका इस्तेमाल वो मल्टी-पर्पस क्लीनर की तरह करने लगी।

आगे उनका कहना है कि इस बायोएंजाइम में रीठा मिलाकर वो कपड़े और बाल धोने के लिए इसे इस्तेमाल करती है। उनका कहना है की जब आप पर्यावरण के अनुकूल बर्तन और कपडे धोने के पानी इस्तेमाल करते है तो इस बचे हुए पानी को आप फूलो में डाल भी सकते है, क्योंकि इसमी कोई भी केमिकल का उपयोग नही किया गया है। उन्होंने बास से खुद के लिए टूथब्रश बनाया है और उसीका इस्तेमाल वो करती है। वो अपने लिए साबुन भी खुद ही बनाती ही। अपने चेहरे के देखभाल के लिए वो नारियल का खुबानी तेल उपयोग करती है मॉस्चराइजर के लिए, शम्पू के लिए उन्होंने रीठा, आँवला और शिकाकाई का पाउडर बनाया है।

पर्यावरण को स्वच्छ रखना हमारी जिमेदारी-

उनका कहना है की उनके घर मे दो डस्टबिन है एक मे वो वैसा कचरा रखती है जिसे हम कम्पोस्ट करके खाद बना सकते है, जिसका इस्तेमाल वो अपने गार्डेनिग के लिए करती है और दूसरा सूखा कचरा भरने के बाद वो अलग-अलग कर लेती है इलेक्ट्रॉनिक कचरे को वो कचरे रेसीयकलर्स दे देती है, बाकी वो खुद का रीसायकल कर लेती है और इससे इको ब्रिक बनाती है, इको ब्रिक का इस्तेमाल आप फर्नीचर बनाने के लिए कर सकते है।

उनका कहना है कि इको फ्रेंडली जीवन का मतलब सिर्फ ये नही है को आप इको फ्रेंडली चीज़े ही खरीदे, बल्कि बदलाव तब आएगा जब आप ऐसी चीज़ें बार बार इस्तेमाल करके इसको अपनी आदत बना लेंगें। ताकि हमारा पर्यावरण स्वच्छ रहे, पर्यावरण से प्रेम की वजह से ही ज्योत्स्ना ने “परमाकल्चर डिजाइन” और ” मियावकी फारेस्ट” का भी कोर्स किया है। ज्योत्सना परमाकल्चर डिजाइन पर काम करने वालो संस्था में स्वयंसेविका के रूप में काम कर रही है।

 

ज्योत्सना के जीवनशैली का असर उनके पूरे परिवार पर देखने को मिलता है उनके परिवार वाले भी उन्ही की तरह जीवन बिता रहे है, अब उनका उद्देश्य उर्जा और पानी के मामले में आत्मनिर्भर बनने का है। ज्योत्सना कहती है कि हमारे देश मे प्लास्टिक का इस्तेमाल बंद होने वाला तो है नही इसलिए हमारे घर पर जो प्लास्टिक आता है उसका सही इस्तेमाल करके हम अपनी पर्यावरण की मदद कर सकते है। अगर आपको ज्योत्सना की कहानी से कुछ प्रेरणा मिली तो आप उन्हें इंस्टाग्राम पर फॉलो कर सकते है।

ज्योत्सना की सोच की हम सराहना करते है, और उनकी तरह जीवनशैली अपनाने की हमे कोशिश भी करनी चहिए अपने पर्यावरण को स्वच्छ रखने के लिए।

अंजली पटना की रहने वाली हैं जो UPSC की तैयारी कर रही हैं, इसके साथ ही अंजली समाजिक कार्यो से सरोकार रखती हैं। बहुत सारे किताबों को पढ़ने के साथ ही इन्हें प्रेरणादायी लोगों के सफर के बारे में लिखने का शौक है, जिसे वह अपनी कहानी के जरिये जीवंत करती हैं ।

80 COMMENTS

  1. What’s Happening i am new to this, I stumbled upon this I
    have found It positively helpful and it has aided me out loads.
    I’m hoping to contribute & aid different customers like
    its aided me. Great job.

  2. My spouse and I stumbled over here by a different web page and thought
    I might check things out. I like what I see so i am just following
    you. Look forward to looking at your web page
    for a second time.

    My page … 777slot

  3. This design is wicked! You certainly know how to keep a reader
    entertained. Between your wit and your videos, I
    was almost moved to start my own blog (well, almost…HaHa!) Fantastic job.
    I really enjoyed what you had to say, and more than that, how you presented
    it. Too cool!

    Have a look at my blog public.tableau.com

  4. Hey just wanted to give you a brief heads up and let you know a few
    of the images aren’t loading properly. I’m not sure why but I think its a linking issue.
    I’ve tried it in two different web browsers
    and both show the same outcome.

    my website – 500px.com

  5. Greetings from California! I’m bored to tears at work so I decided to
    browse your blog on my iphone during lunch break.
    I really like the info you present here and can’t wait to take a look when I get home.

    I’m shocked at how quick your blog loaded on my mobile ..
    I’m not even using WIFI, just 3G .. Anyways, good blog!

    My website … slot777

  6. Greetings from Idaho! I’m bored to death at work so I decided to check out your blog
    on my iphone during lunch break. I enjoy
    the knowledge you present here and can’t wait to take a look
    when I get home. I’m amazed at how fast your blog loaded on my cell phone ..
    I’m not even using WIFI, just 3G .. Anyhow, good blog!

  7. Hello there! This is my first comment here so I just wanted to give a quick shout out and tell you I truly enjoy reading through your posts.
    Can you suggest any other blogs/websites/forums that go
    over the same topics? Thanks for your time!

  8. Pretty section of content. I simply stumbled upon your weblog and in accession capital to
    say that I acquire actually loved account your weblog posts.
    Any way I’ll be subscribing for your feeds and even I success you get
    right of entry to constantly quickly.

  9. Hi there exceptional website! Does running a blog such as
    this require a massive amount work? I have no expertise in programming
    but I was hoping to start my own blog in the near future. Anyways,
    if you have any recommendations or tips for new blog owners please share.
    I understand this is off subject but I simply
    needed to ask. Appreciate it!

  10. Hey there! I just wanted to ask if you ever have any issues with hackers?

    My last blog (wordpress) was hacked and I ended up losing several weeks
    of hard work due to no data backup. Do you have any solutions to
    prevent hackers?

  11. I do agree with all the ideas you’ve introduced on your post.
    They are very convincing and will definitely work. Nonetheless, the posts are too quick for beginners.
    May you please prolong them a little from subsequent
    time? Thanks for the post.

  12. hello!,I love your writing very a lot! percentage
    we keep up a correspondence more about your article on AOL?
    I need an expert on this house to resolve my problem.
    May be that is you! Taking a look forward to look
    you.

  13. I absolutely love your blog and find most of your post’s to be what precisely I’m looking for.
    Would you offer guest writers to write content for you personally?
    I wouldn’t mind writing a post or elaborating on a lot of the subjects
    you write regarding here. Again, awesome blog!

  14. Great site you have here but I was curious about if you knew of any community forums that cover the same
    topics discussed in this article? I’d really love to be a part of
    community where I can get responses from other experienced individuals that share the same interest.
    If you have any recommendations, please let me know.
    Many thanks!

  15. Hi would you mind sharing which blog platform you’re working with?

    I’m going to start my own blog soon but I’m having a tough time choosing between BlogEngine/Wordpress/B2evolution and Drupal.
    The reason I ask is because your design and style seems different then most blogs and I’m looking for something unique.
    P.S My apologies for being off-topic but I had to ask!

  16. Cool blog! Is your theme custom made or did you
    download it from somewhere? A design like yours with
    a few simple tweeks would really make my blog shine. Please let me know
    where you got your theme. Kudos

  17. Woah! I’m really loving the template/theme of this
    site. It’s simple, yet effective. A lot of times it’s difficult to get that “perfect balance” between superb usability and visual appeal.

    I must say you’ve done a fantastic job with this. Additionally,
    the blog loads super quick for me on Internet explorer.
    Superb Blog!

  18. I would like to thank you for the efforts you have
    put in penning this website. I’m hoping to
    check out the same high-grade content from you in the future as well.
    In fact, your creative writing abilities has encouraged me to get my own website now 😉

  19. I don’t even know how I ended up here, but I thought this post was good.
    I don’t know who you are but certainly you are going to
    a famous blogger if you are not already
    😉 Cheers!

    Feel free to surf to my blog post Nexus

  20. Thanks for any other fantastic post. Where else could anybody get that type of information in such
    a perfect manner of writing? I’ve a presentation next
    week, and I am at the search for such information.

    Check out my web page … slot888

  21. We are a gaggle of volunteers and starting a brand
    new scheme in our community. Your web site offered us with useful information to work on. You’ve performed an impressive activity
    and our entire group will likely be grateful to you.

  22. I blog often and I genuinely appreciate your information. Your article has truly peaked my interest.
    I’m going to take a note of your website and keep checking
    for new details about once a week. I subscribed to your Feed as well.

  23. Attractive section of content. I just stumbled upon your blog and in accession capital to assert that
    I acquire actually enjoyed account your blog posts.
    Anyway I’ll be subscribing to your augment and even I achievement you access consistently quickly.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here