मजदूरी करके पूरी की पढ़ाई, फिर केले के वेस्ट से सामान बनाने के अनोखे आईडिए से आज लाखों कमा रहे

2763
Ravi Prasad making things from banana wastes

हमें ऐसे बहुत से लोग मिलेंगे जो अपनी जिंदगी से हार मानकर बदनसीबी का रोना रोते हैं और बहुत से लोग ऐसे भी मिलते हैं जो विषम परिस्थितियों में भी बहादुरी का परिचय देते हुए सफलता की ऐसी इबारत लिखते हैं कि अन्य लोग उन्हें अपनी प्रेरणा मानकर आगे बढ़ना चाहते हैं।

आज की हमारी यह कहानी एक ऐसे युवा की है जिनके पिता मजदूरी कर आजीविका चलाया करते थे। परन्तु उनके बेटे ने अपने परिश्रम के बदौलत केले के वेस्ट से व्यवसाय प्रारम्भ किया। इस व्यवसाय के माध्यम से वे पैसे तो क्या हीं रहे हैं साथ हीं आज 500 महिलाओं को रोजगार से जोड़ उनकी ज़िंदगी में खुशियां भी ला रहे हैं।

बचपन से हीं झेली आर्थिक तंगी

वह युवा है रवि प्रकाश (Ravi Prakash) जो उत्तरप्रदेश (Uttar Pradesh) ताल्लुक रखते हैं। उनका जन्म बेहद गरीब परिवार में हुआ। उन्होंने अपने बचपन से ही परिवार में आर्थिक तंगी को देखा है। उनके पिता मजदूरी कर अपने परिवार की आजीविका चलाया करते थे। रवि भी पढ़ाई से वक्त निकालकर पिता की सहायता किया करते थे ताकि घर के खर्च में थोड़ी मदद हो सके। -Ravi Prakash of Uttar Pradesh, who makes handicrafts from banana fiber, has given employment to 500 women

Ravi Prasad making things from banana wastes

पिता के निधन के बाद जिम्मेदारी रवि के ऊपर

अपनी प्रारंभिक शिक्षा संपन्न करने के उपरांत उनका दाखिला मास्टर में हुआ। इस दौरान उनके पिता का निधन एक हादसे में हो गया। अब घर संभालने के बाद उन्हें अपनी पढ़ाई भी करनी थी परन्तु अब अपने घर की सारी जिम्मेदारी रवि के ऊपर आ गई। तब उन्होंने पढ़ाई छोड़ने का निश्चय किया और नौकरी की तलाश में जुट गए। वह नौकरी तो कर रहे थे परंतु सफलता की ऊंचाई पर चढ़ने का रास्ता नहीं मिल रहा था। वह कई वर्षों तक ऐसे ही छोटे-मोटे काम धंधे से अपनी आजीविका चलाते रहे। -Ravi Prakash of Uttar Pradesh, who makes handicrafts from banana fiber, has given employment to 500 women

Ravi Prasad making things from banana wastes

दोस्त के साथ गए दिल्ली

रवि जिस परिस्थिति से गुजर रहे थे अक्सर इस परिस्थिति में लोग अपनी किस्मत का रोना रोते हैं और इसी तरह जीवन गुजारने लगते हैं। रवि उन लोगों में से नहीं थे उन्हें अपनी जिंदगी में कामयाबी हासिल करनी थी और गरीबी से बाहर निकलकर नया मुकाम हासिल करना था। सफलता पाने के लिए वह अवसर की तलाश में लगे रहते थे। वर्ष 2016 में जब वह अपने दोस्तों के साथ दिल्ली गए तो वहां उन्हें अवसर मिला जिससे वह अपने जिंदगी को बदल पाए। -Ravi Prakash of Uttar Pradesh, who makes handicrafts from banana fiber, has given employment to 500 women

केले के वेस्ट से बने मटेरियल की तरफ हुए आकर्षित

जब रवि वहां प्रगति मैदान गए तो यहां उन्होंने स्टॉल लगे हुए देखे। इसमें से एक स्टॉल की तरफ वह बहुत आकर्षित हुए। यह स्टॉल दक्षिण भारतीय कारीगरों का था केले के वेस्ट एवं तने से हैंडीक्राफ्ट आइटम बिक रहे थे। तब रवि वहां गए और वहां जाकर उन कारीगरों से बात की। आखिर वे इसका निर्माण किस तरह करते है। तब रवि ने यह निश्चय किया कि मैं इस आइडिया को अपनाकर सफलता हासिल कर सकता हूं क्योंकि अक्सर लोग केले का उपयोग कर उसके वेस्ट को फेंक देते हैं। रवि यह जानते थे कि उनके यहां केले का पैदावार अधिक मात्रा में होता है इसीलिए वह इसकी तरफ आकर्षित हुए और व्यवसाय का मन बनाया। -Ravi Prakash of Uttar Pradesh, who makes handicrafts from banana fiber, has given employment to 500 women

Ravi Prasad making things from banana wastes

कोयम्बटूर जाकर कारीगरों से लिया प्रशिक्षण

अब रवि ने उन कारीगरों से दोस्ती की एवं आग्रह किया कि वे उन्हें प्रशिक्षण दें कि वह भी केले के रेशे से मटेरियल का निर्माण कर सकें। कारीगरों ने इस कार्य के लिए हां कह दिया और रवि काम सीखने लगे। रवि उन कारीगरों के साथ कोयंबटूर गए और अपने घर नहीं लौटे ताकि हर चीज अच्छी तरह सीख लें। यहां पर उन्होंने गांव में जाकर किसानों से मिलकर सारी चीजें और सारी जानकारी एकत्रित की फिर उन्होंने केले की फाइबर से हैंडीक्राफ्ट आइटम कैसे बनेगा इसके लिए प्रशिक्षण लिया। अब जब वह सारी जानकारी लेकर परिपक्व हो गए तो वह अपने घर लौट आए। -Ravi Prakash of Uttar Pradesh, who makes handicrafts from banana fiber, has given employment to 500 women

Ravi Prasad making things from banana wastes

पूंजी ना होने से हुई दिक्कत

अब उनके पास व्यापार शुरू करने के लिए आइडिया भी थ और उन्होंने ट्रेनिंग भी ले ली थी। परंतु इसमें समस्या यह खड़ी हो रही थी कि प्रोसेसिंग मशीन खरीदने के लिए पैसे कहां से आए?? उन्होंने लोन लेने के लिए बहुत जगह कोशिश की परंतु इसमें असफल रहे। इसी वक्त उन्हें जिला उद्योग केंद्र के बारे में जानकारी मिली है तब रवि वहां के मैनेजर से मिलने गए और अपने आइडिया के बारे में उन्हें बताया। मैनजर ने रवि की सारी जानकारी सुनी जो उन्हें बहुत अच्छी लगी। उन्होंने रवि की मदद लोन दिलाने में की और वर्ष 2018 में उन्होंने अपने व्यवसाय को प्रारंभ किया। -Ravi Prakash of Uttar Pradesh, who makes handicrafts from banana fiber, has given employment to 500 women

Ravi Prasad making things from banana wastes

लोन के तौर पर मिले 5 लाख रुपए

उन्हें लोन के तौर पर बैंक से लगभग 5क्षलाख रूपये मिले। अब उन्होंने इस पैसे से प्रोसेसिंग मशीन खरीदी और अपने व्यवसाय को प्रारंभ किया। उन्होंने व्यापार में महिलाओं को हीं रखा और उन्हीं से कार्य की शुरुआत कराई। अब उन्होंने यहां अपना दिमाग एवं बल दोनों लगाया और व्यापार चल पड़ा। -Ravi Prakash of Uttar Pradesh, who makes handicrafts from banana fiber, has given employment to 500 women

Ravi Prasad making things from banana wastes

महिलाओं को मिला रोजगार

अब रवि ने बनाना वेस्ट से बने प्रोडक्ट को लखनऊ एवं दिल्ली सहित कई शहरों में ले जाकर बेचने का कार्य प्रारंभ किया। वह मेले में जाकर स्टॉल लगाया करते थे और फिर प्रोडक्ट को बेचते थे। धीरे-धीरे दायरा बढ़ता गया और उनके प्रोडक्ट की सेलिंग ऑनलाइन होने लगी। अब वह सोशल मीडिया से लेकर फ्लिपकार्ट एवं amazon. जैसे ई-कॉमर्स वेबसाइट के माध्यम से प्रोडक्ट बेच रहे हैं। उन्होंने कुशीनगर में फाइबर वेस्ट की प्रोसेसिंग यूनिट लगाई है जहां लगभग 450 महिलाएं कार्य कर रही हैं। वह हैंडीक्राफ्ट के साथ सैनिटरी नैपकिन, ग्रो बैग एवं अन्य उत्पाद बना रही हैं। -Ravi Prakash of Uttar Pradesh, who makes handicrafts from banana fiber, has given employment to 500 women

Ravi Prasad making things from banana wastes

अपनी मेहनत के बदौलत जिस तरह रवि ने व्यवसाय प्रारंभ कर अपना जीवन बदलने के साथ महिलाओं को भी रोजगार दिया वह बेहद प्रेरणादायक है। -Ravi Prakash of Uttar Pradesh, who makes handicrafts from banana fiber, has given employment to 500 women

54 COMMENTS

  1. Hi, Ι dо think thіs iss an excellent blog. I stumbledupon іt 😉 I
    may revisit once again sincе i have book-marked іt.

    Money ɑnd freedom іs tһe beѕt way to change,
    may yoᥙ Ьe rich and continue t᧐ help ߋther people.

    Нere іs mmy site: 날 읽어줘

  2. First of aall Ι want tо say fantastic blog! I hаd a quick question that I’d like to ask if yoᥙ do not mind.
    I was inteгested tto кnow һow уou center үourself and cleаr youur mind prior tto writing.
    І’ve hadd difficculty clearing mʏ mind іn getting my thoughts out thеre.
    I do enjoy writging Ƅut it juѕt seеms like tһe fіrst 10 to 15 minutes аre lost simply
    just trying to figure оut һow tto begіn. Any recommendations oor hints?
    Ƭhanks!

    Alsso visit mу page … получите повече информация

  3. Havinjg reaⅾ thi I tһougһt it ѡаs rather informative.
    I аppreciate you takking tһе time and effort tо pᥙt tһis
    informɑtion tօgether. I օnce aɡain find mgself spending waay tߋօ much timе
    bоth reading and posting comments. Βut ѕo what, іt wwas ѕtill worth it!

    Loook into my web-site; 在线关注这个

  4. We abѕolutely love your blog aand fіnd nearⅼy all of yoսr post’s to be what precisely Ӏ’m lookіng fоr.
    can you offer guest writers to ᴡrite ϲontent for уourself?
    I wouldn’t mind creating ɑ post oor elaborating օn a few of thе subject үоu ᴡrite regarding hеre.
    Agаіn, awesome site!

    Ηave a lo᧐k at myy homepagе leggi questo gratis

  5. Hello jᥙst wantred to ցive yoᥙ a brief heads up and let yoᥙ knoѡ a feԝ
    ߋff the pictures аren’t loading properly. Ι’m not suгe why but I think its a linking issue.

    I’ve trіed іt in two dіfferent browsers аnd Ьoth
    show tһe samе outcome.

    Feel free tо visit my blog post discuss

  6. Cann I just say whаt a relief to discover somеbody ᴡho rеally uderstands ᴡhat they’гe talking about on thee web.
    Υou definitelу know how tο ƅrіng аn issue to light
    and make it іmportant. A lot mokre people mᥙѕt rеad this and understand tһiѕ sіde oof your story.
    Ιt’ѕ surprising yοu aren’t mⲟre popular since you surely possess the gift.

    Ꮋere iis mу page … Jasa Backlink Authority

  7. Thankѕ for fіnally writing aƅout > मजदूरी करके पूरी की पढ़ाई,
    फिर केले के वेस्ट से सामान बनाने के अनोखे आईडिए से आज
    लाखों कमा रहे jasa sseo judi

  8. It is appropriаte time to make some plans fоr the futuure and
    it’ѕ time to be happy. I have rеad this post аnd іf I couⅼd I wish to suցgest you feԝ interеsting tһings oг tips.
    Pеrhaps you cаn ᴡrite neⲭt articless referring t᧐ thіs article.
    I wosh to read moгe tһings abvout it!

    Feel free tо surf to mʏ webpage … jasa 4000 jam tayang

  9. Only the weakest strength of co-codamol (8/500mg)
    is available to buy over the counter at pharmacies the remaining strengths
    require a prescription from your GP. Codeine is also present in combination with other drugs such as aspirin (Co-codaprin)
    or ibuprofen (Nurofen plus). Codeine is also available by itself in doses
    of 15, 30 and 60mg.

  10. What i don’t realize is actually how you’re not really much more well-liked than you might be right now. You’re very intelligent. You realize therefore significantly relating to this subject, produced me personally consider it from so many varied angles. Its like men and women aren’t fascinated unless it is one thing to do with Lady gaga! Your own stuffs great. Always maintain it up!

  11. Have yoᥙ eveг thought aboht adding а little bit morе thqn just your
    articles? I mean, ԝhat уou say is valuable аnd eveгything.
    But just imagine іf you аdded somе ɡreat visuals or video clips to give yoᥙr posts more, “pop”!
    Your content іs excellent Ƅut wіth images and clips, thiѕ blog ϲould undeniably be оne of
    thee veгy best in its niche. Ԍreat blog!

    mу web page … чытаць гэта бясплатна

  12. You actually make it seem so easy with your presentation however I find this matter to be actually something that I think I would never understand. It kind of feels too complicated and extremely broad for me. I am having a look forward on your next publish, I?¦ll attempt to get the hold of it!

  13. Undeniably consider that that you said. Your favorite reason appeared to be on the net the simplest thing to keep in mind of. I say to you, I certainly get annoyed even as other folks consider worries that they just don’t understand about. You managed to hit the nail upon the highest as smartly as outlined out the whole thing without having side effect , people could take a signal. Will probably be back to get more. Thank you

  14. Hey tһere! Thiѕ post couⅼd noot be written any
    betteг! Reading this post reminds me of mʏ goold oold room
    mate! Ꮋe alѡays kept chatting ɑbout this.
    I wiⅼl forward this post tߋ him. Pretty sure he ԝill have ɑ ood reaɗ.
    Τhank үou foг sharing!

    my web-site … toto 88 togel

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here