दो युवाओं ने शुरु किया “चाय पियो, कप खा जाओ” नाम से अनोखा स्टार्टअप, चाय पीने के बाद कप खा सकते हैं

776
Rinku Arora and Piyush Kushwaha starts unique startup Drink tea and eat cup concept

कहते हैं न कोई भी काम छोटा या बड़ा नहीं होता है। किसी भी काम को लगन और मेहनत से किया जाए तो उसमे सफलता जरूर मिलती है। आज की हमारी कहानी ऐसे दो शख्सों के बारे में है, जो अपने मेहनत के बदौलत एक चाय की स्टॉल लगाकर अच्छी खासी कमाई कर रहे हैं।

बता दें कि दोनो दोस्तों ने मिलकर मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के शहडोल जिला मुख्यालय की मॉडल रोड की सड़क के किनारे एक चाय की दुकान की शुरुआत की है और यह दुकान आजकल खूब सुखियां बटोर रहा है क्योंकि इस दुकान पर चाय पीने के बाद आप उस चाय वाले कप को खा भी सकते हैं।

कौन है वे दोनो शख्स?

आमतौर पर जब हमलोग कहीं चाय स्टॉल पर चाय पीने जाते हैं तो चाय पीने के बाद जिस कप, कुल्हड़, या डिस्पोजेबल गिलास में चाय आई होती है उसे वहीं रख कर चले जाते हैं लेकन मध्य प्रदेश के शहडोल में दो युवा दोस्तों रिंकू अरोरा और पीयूष कुशवाहा ने मिलकर एक ऐसे चाय की स्टार्टअप की शुरुआत की है, जहां चाय पीने के बाद चाय के कप को फेंकने की बजाए उसे खा सकते हैं।

बता दें कि, चाय की दुकान खोलने वाले दोनो शख्स रिंकू अरोरा (Rinku Arora) और पीयूष कुशवाहा (Piyush Kushwaha) शहडोल के ही रहने वाले हैं और दोनो बचपन से हीं दोस्त है। इन दोनो ने एक हीं साथ अपनी पढ़ाई पूरी की है।

Rinku Arora and Piyush Kushwaha starts unique startup Drink tea and eat cup concept

बिस्किट वेफर से बना होता है चाय का कप

शहडोल की इस चाय दुकान में चाय का कप कांच, चीनी मिट्टी या प्लास्टिक का नहीं होता है यह कप बिस्किट वेफर का बना होता है। जिस वजह से लोगों का तांता इनके दुकान पर लगा रहता है क्योंकि इनकी दुकान पर चाय पीने के बाद उस चाय वाले कप को खा भी सकते हैं।

यह भी पढ़ें :- बुजुर्ग महिला के जज्बे को सलाम ! 71 वर्ष की उम्र में बुलडोजर समेत चलाती है 11 अन्य बड़ी गाड़ियां

चाय पियो, कप खा जाओ’ नाम से शुरू किया यूनिक कॉन्सेप्ट

आमतौर पर आपने देखा होगा कि लोग चाय की दुकान पर स्पेशल चाय पीने जाया करते हैं लेकिन शहडोल की इस चाय दुकान में लोग स्पेशल चाय के कप को खाने आते हैं।जिसकी कीमत 20 रुपये है।

इस कप की सबसे बड़ी खासियत यह है कि लोग चाय पीने के बाद कप को फेकने के बजाय इसको बड़े स्वाद के साथ खाते हैं जिससे कचरा भी नहीं होता है। दोनो शख्शों ने ‘चाय पियो, कप खा जाओ’ नाम से एक यूनिक कॉन्सेप्ट शुरू किया है, जो कि सोशल मीडिया पर इन दिनों भी ट्रेंड कर रहा है।

ग्राहकों से मिल रहा अच्छा रिस्पॉन्स

दोनो दोस्तों का चाय पियो, कप खा जाओ’ नाम शुरू किया यूनिक कॉन्सेप्ट आजकल सोशल मीडिया पर खूब ट्रेंड कर रहा है। इसका फायदा यह है कि सोशल मीडिया के माध्यम से इस दुकान के बारे में जानने के बाद लोग दुकान ढूंढ कर वहां पहुंच रहे हैं। सबसे बड़ी बात यह है कि ग्राहकों से अच्छा रिस्पॉन्स मिल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here