नौकरी में नहीं लगा मन तो शुरु किया आधुनिक खेती, अब उसी से कमा रहे हैं 15 करोड़ रुपये

1300
Shashank Bhatt and Abhishek Bhatt from Lucknow Uttarpradesh Earning 15 crore by Modern Farming.

आज कल के समय में हर युवा की सोच हैं की वो पढ़–लिख कर एक अच्छी खासी कंपनी में नौकरी हासिल करे। जिससे वह एक अच्छी कमाई कर सके। लेकिन वह अपने दादा या पूर्वजों द्वारा की गई कृषि क्षेत्र में खेती को भूल चुके हैं क्युकी आज कल की युवा कृषि क्षेत्र में नही जाना चाहती। क्युकी उनका मानना हैं की कृषि क्षेत्र में अच्छी कमाई नहीं होती और यह क्षेत्र में काम कोई भी इंसान बिना पढ़ाई के कर सकता हैं। लेकिन वह यह सब भी भूल चुके हैं की उस समय खेती से ही घर के खर्च चलते थे और वर्तमान में तो शहर के लोग खेती बाड़ी को लेकर काफी गलत सोच रखते है लेकिन हम सब अच्छी तरह जानते हैं की हमारे भारत के विकास में खेती का भी हाथ हैं लेकिन उस समय और आज के समय में कृषि क्षेत्र में काफी बदलाव हुआ है जिसके बाद खेती बाड़ी करने में आसानी होने लगी हैं क्युकी कृषि क्षेत्र में अब काफी विकास हुआ है। जिससे आज कल की युवा अपना नौकरी का सुझाव बदल कर अपना फ्यूचर खेती बाड़ी में बनाने का सोच रही हैं।

आज हम आपको एक ऐसे ही दो युवा की कहानी बताएंगे। जिन्होने अच्छी खासी पढ़ाई कर नौकरी न ढूंढते हुए अपना भविष्य खेती बाड़ी में बनाने का सोचा। जिसके बाद आज वो दोनो युवा लाखो रुपए की कमाई कर रहे हैं

**जानते हैं दोनो युवक के बारे में…..

आज हम जिनकी बात कर रहे हैं उनका नाम शशांक भट्ट (Shashank Bhatt) और अभिषेक भट्ट (Abhishek Bhatt) । जो उत्तरप्रदेश (Uttarpradesh) की राजधानी लखनऊ (Lucknow) के रहने वाले है ये दोनो युवक सगे भाई है जो कुछ पाने की चाह में अपनी जिंदगी में ऐसा रास्ता ढूंढा। जिससे उन दोनो की एक अलग पहचान बनी। जिस तरह हर युवक चाहता है की पढ़ लिख कर अच्छी खासी नौकरी मिले। ठीक इसी तरह शशांक जिन्होने एमबीए कर अपनी पड़ी को पूरा किया और वही अभिषेक जिन्होने बीटेक कर अपनी पढ़ाई को पूरा किया।

यह भी पढ़ें:- नौकरी छोड़ शुरू की पराली से मशरूम उगाना, अब सालाना 20 लाख रुपए कमा रही

**नौकरी में नही लगा मन……

शशांक जिनकी पढ़ाई पूरी हो जाने के बाद उन्हें एक नौकरी मिली । जिसे वह करने लगे लेकिन उनकी चाह कुछ अलग ही थी वो कुछ ऐसा चाहते थे जिससे उनका और उनके माता पिता का नाम रोशन हो। शशांक जिन्होने कुछ अलग करने की तमन्ना में अपनी नौकरी को छोड़ दिया। जिसके बाद वो कुछ ऐसा करना चाहते थे जिससे उनका नाम बने। काफी सोच विचार करने के बाद उन्होंने अपना कदम कृषि क्षेत्र में रखा। क्युकी जैसे की हम सब जानते हैं की कृषि क्षेत्र में अब विकास हो रहा है जिसके चलते अब वह से अच्छी कमाई होने लगी हैं।

**माता–पिता नही माने खेती बाड़ी के लिए……

जिन माता पिता ने अपने बच्चो को खूब पढ़ाया लिखाया। जिसके बाद वो चाहते है की उनके बच्चे अच्छी नौकरी करे । लेकिन उनके बच्चो ने नौकरी छोड़ अपना कदम कृषि क्षेत्र में रखा। जिस कारण उनके माता पिता को इस बात के लिए राजी नहीं थे। उस समय शशांक के लिए यह कार्य करना काफी मुश्किल था लेकिन उन्होंने इस वक्त हार ना मानते हुए दोनो भाई खेती बाड़ी में जुट गए। जिसके बाद धीरे –धीरे उनके परिवार ने उन्हे समझा और उनका साथ दिया।

**शुरुवात हुई आधुनिक खेती की……

काफी मुश्किलों का सामना कर शशांक के आगे एक और चुनौती आकार खड़ी हुई। क्युकी अब शशांक को एक ऐसे काम को शुरुवात करनी थी जिसके बारे में वो कुछ नही जानते थे। जिसके लिए उन्हें काफी मेहनत कर जानकारी को हासिल करना था। शशांक आधुनिक खेती की जानकारी के लिए देश में अलग अलग जगह जा जा कर उसके बारे में जानकारी हासिल की। लेकिन जानकारी हासिल करने में सबसे बड़ा हाथ शशांक के मामा का था जो काफी समय से अधुनकी खेती बाड़ी में कार्य करते थे जिसके ज्यादातर जानकारी उनके मामा ने उन्हे दी। जिससे उन्हें खेती बाड़ी में बेहद सहयाता मिली।

यह भी पढ़ें:- जानिए भारत की सबसे बड़ी एयरलाइन चलाने वाले आर जी गोपीनाथ की प्रेरक कहानी

**एक और चुनौती का सामना कर नही मानी हार…..

आखिर कर यह बात सच हैं की कोई भी काम मैं सफलता आसानी से नहीं मिलती। इतनी चुनौतियों का सामना कर शशांक के सामने एक और चुनौती आकार खड़ी हुई। क्युकी शशांक ने खेती बाड़ी में अपना भविष्य बनाने का सोच लिया था। लेकिन उन्हे अब खेती बाड़ी करने के लिए जमीन की अवश्यकता थी वे साथ ही साथ उनको सोचना था की खेती किस की की जाए। लेकिन शशांक ने हार मुश्किल का समाधान निकाल उसका सामना किया। उन्होंने खेती के लिए जमीन की तलाश की आखिर में उन्होंने 5 एकड़ जमीन को रेंट पर लिया। जिसपे उन्होंने शिमला मिर्च की खेती से शुरुवात की।

**आखिर कर मिल ही गई सफलता….

जो व्यक्ति अडिग हो कर अपनी मंजिल की तलाश में चलता जाता है आखिर में उसे मंजिल मिल ही जाती है शशांक और अभिषेक जिन्होने एक 5 एकड़ जमीन पे खेती की थी आज वही दोनो की कमाई 15 करोड़ है जहा आज वो दोनो 22 एकड़ जमीन पर खेती कर रहे है काफी संघर्ष कर आज दोनो भाई ने एक ऐसी कंपनी का निर्माण किया। जिसके जरिए किसान लोगो को खेती बाड़ी में रास्ता दिखा जायेगा।

आज के समय में मॉडर्न खेती को लेकर लोग जागरूक नहीं हैं जिसके लिए दोनो भाई किसान लोगो को जागरूक कर उन्हे मॉडर्न खेती करने के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं। क्युकी आधुनिक खेत (modern farming) आज के समय में काफी कमाई का जरिया बन चुकी है। क्युकी कृषि क्षेत्र को अब सरकार द्वारा काफी सहयोग मिल रहा है जिस कारण कृषि क्षेत्र में काफी विकास हो रहा हैं।

**भविष्य…..

आधुनिक खेती (Modern farming) का आने वाले समय में काफी लोग अपने भविष्य बनाने के लिए खेती बाड़ी को चुनेंगे। क्युकी आने वाले समय में जितनी कमाई नौकरी से नही होगी उससे अधिक आधुनिक खेती में युवा पीढ़ी कमाई करेंगे।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here