जज्बे को सलाम : 100 वर्ष की उम्र में साड़ी का बिजनेस चलाती है यह दादी, एक साड़ी की कीमत 11 हजार रुपये है

685
Story of 100 year old padmavati nair hand painted saree business

कहते हैं न, चाहे उम्र जो भी हो लेकिन किसी काम के प्रति मेहनत, लगन और श्रद्धा हो तो सफलता जरूर मिलती है, इस बात को सच साबित किया है केरल के थ्रीसूर की रहने वाली 100 वर्षीय पद्मावती नायर ने। जी हां, इन्होंने 100 साल के उम्र में भी अपने मेहनत को बरकरार रखा है और आज लोगों के लिए प्रेरणा बनी हुईं हैं।

तो आइए जानते हैं, इनकी सफलता से जुड़ी कुछ जानकारियां :-

100 साल की उम्र में भी करती हैं रोज़ाना तीन घंटे काम

केरल (Kerala) के थ्रीसूर की रहने वाली 100 वर्षीय पद्मावती नायर (Padmavati Nair) रोजाना तीन घंटे काम करती हैं। वे साड़ी डिजाइन और पेंट करने का काम करती हैं। उनको अपने काम से इतना लगाव है कि इतने ज्यादा उम्र में भी लगातार अपने काम पर मेहनत करती हैं।

जब एक न्यूज चैनल ने उनसे पूछा कि आप 100 के उम्र में भी बिना थके इतना काम कैसे कर लेती हैं? तो उनका जवाब था कि “मुझे इसमें मज़ा आता है, और इससे बहुत संतुष्टि मिलती है।”

 100 year old padmavati nair hand painted saree business

साल 1920 में जन्मी हैं दादी, फिर भी है काम के लिए एनर्जी

बता दें कि, 100 वर्षीय पद्मावती नायर (Padmavati Nair) का जन्म सन 1920 का है लेकिन अपने काम के प्रति उनके पास इतना एनर्जी है कि बिना थके रोज़ाना तीन घंटे काम करती हैं। वे हाथों से डिजाइन का लेआउट तैयार करने से लेकर उसमें रंग भरती हैं।

उन्होंने बताया कि, जिस साड़ी पर वे काम करती हैं वो साड़ी उनकी बेटी और उनकी बहुएं उनके लिए लाती हैं।
वही उनकी बेटी लता का कहना है कि, मां को एक साड़ी पर काम पूरा करने में लगभग एक महीने का समय लगता है और अब उनके पास पहले से ही पांच साड़ियां हैं, जिन्हें उन्हें पूरा करना है।”

Story of 100 year old padmavati nair hand painted saree business

यह भी पढ़ें :- गांवों से पलायन रोकने के लिए लाखों की नौकरी छोड़ शुरु की मशरुम उगाना, आज करोड़ो का टर्नओवर हो रहा है : मशरुम गर्ल

अपने कमाई के पैसों को कभी खुद पर नहीं करती खर्च

100 साल के उम्र में भी तीन घंटे ताजगी के साथ काम करने वाली पद्मावती नायर अपने काम से होने वाली कमाई को कभी खुद पर खर्च नहीं करती। वे इन पैसों को अपने पोते के लिए ख़र्च करती हैं।

बता दें कि, उनके द्वारा बनाई हुई एक साड़ी की कीमत लगभग 11,000 रुपये होती है और एक दुपट्टे की कीमत 3000 रुपये है।

Story of 100 year old padmavati nair hand painted saree business

सोशल मीडिया पर रहती हैं एक्टिव

इतने ज्यादा उम्र में भी दादी (Padmavati Nair) बिल्कुल मॉडर्न हैं। खास बात यह है कि वे सोशल मीडिया पर खूब एक्टिव रहती हैं। उनकी फिलोसोफी है “व्यस्त रहें और दूसरों के जीवन में हस्तक्षेप न करें।”

14 COMMENTS

  1. Thanks , I’ve recently been looking for information approximately this subject for a long time and yours is the best I have discovered so far. However, what in regards to the conclusion? Are you certain about the supply?

  2. I discovered your blog site on google and check a few of your early posts. Continue to keep up the very good operate. I just additional up your RSS feed to my MSN News Reader. Seeking forward to reading more from you later on!…

  3. Küvete girdiği sevgilisi ile seks yapmaya başladıklarında adam kadının götünün yanaklarını aralayıp karpuz gibi amcığı yalarken kadın adamın sikini yalayıp
    suyu. 4K Porno, Blowjob, HD Sikiş, Karışık Pornolar, Konulu, Mobil Sex,
    Sert Mesude Karabasanoglu. 01:00.

  4. That is the right blog for anyone who desires to find out about this topic. You notice a lot its nearly arduous to argue with you (not that I truly would want…HaHa). You undoubtedly put a new spin on a subject thats been written about for years. Great stuff, just great!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here