जानिए भारत के एक ऐसे तैरते हुए चर्च के बारे में जो मानसून में पानी में डूब जाता है, “गुमनाम डेस्टिनेशन” से है विख्यात

329
story of Shettihalli Rosary Church, Karnataka

हमारी पृथ्वी पर ऐसे कई रहस्य छुपे हुए हैं जिनके बारे में पता लगाने के चक्कर में इन्सान उसी में उलझ कर रह जाते हैं। भारत में भी इमारतें और किलों की रहस्यमयी कहानियां और उसकी बनावट सभी के लिए चर्चा का विषय बने रहते हैं। इसी क्रम में आज हम आपकों भारत में स्थित एक ऐसे चर्च के बारे में बताएंगे मानसून के सीजन में पानी में डूब जाता है और ग्रीष्म ऋतु में ऊपर आ जाता है।

story of Shettihalli Rosary Church, Karnataka

कर्नाटक (Karnataka) के हसन जिले से लगभग 22 किलोमीटर दूर स्थित इस अनोखे चर्च का नाम शेट्टीहल्ली रोजरी चर्च (Shettihalli Rosary Church) है। यह भारत के इस इकलौते चर्च को लोग “तैरता हुआ” या “डुबा हुआ चर्च” करते हैं। इसकी संरचनाएँ बेहद खुबसूरत है फिर भी यह एक खंडहर बन कर रह गया है और यहां टूरिस्ट भी कभी-कभार ही आते हैं।

story of Shettihalli Rosary Church, Karnataka

हेमावती नदी के किनारे स्थित शेट्टीहल्ली रोजरी चर्च (Shettihalli Rosary Church) को 1860 में फ़्रैंच मिशनरीज द्वारा बनाया गया था। मानसून में डूब जाने के वजह से इसे “गुमनाम डेस्टिनेशन” भी कहा जाता है। यह चर्च वीरान उस समय हुआ जब वर्ष 1960 में हेमावती नदी पर बान्ध बना दिया गया। उस बांध के वजह से चर्च के पास की सभी भूमि रेत से भर गई और यह खुबसूरत चर्च वीरान हो गया।

story of Shettihalli Rosary Church, Karnataka

पूरे वर्ष पानी में डुबे रहने की वजह से इस चर्च का सिर्फ एक तिहाई हिस्सा ही देखने को मिलता है। यही वजह है कि इस चर्च को एक नया नाम दिया गया है, ” द ड्रोइंग चर्च”। शेट्टीहल्ली रोजरी चर्च जो अब चिडियोँ का घर बन गया है, वहां सिर्फ वही पर्यटक आते हैं जिन्हें शांति की तलाश रहती है।

story of Shettihalli Rosary Church, Karnataka

यदि वर्षा ऋतु के मौसम में आप यहां की यात्रा करना चाहते हैं तो नाव से यात्रा कर सकते हैं। नाव की मदद से आप इस चर्च के भीतरी हिस्से का दर्शन कर सकते हैं। यह चर्च की खुबसूरती को जुलाई से अक्तूबर के बीच देखा जा सकता है। उस समय इसका आधा हिस्सा पानी में और एक तिहाई हिस्सा पानी से ऊपर नजर आता है। वहीं दिसंबर से मई के बीच यह पूरा चर्च सतह पर नजर आता है।

story of Shettihalli Rosary Church, Karnataka

वास्तव, में हमारे देश में कई ऐसी इमारतें हैं जिनका रहस्य आजतक नहीं सुलझ पाया है और वे सिर्फ एक रहस्यमयी कहानियां बनकर रह गई है।

14 COMMENTS

  1. I’m not sure where you’re getting your info, but good topic.I needs to spend some time learning more or understanding more.Thanks for magnificent info I was looking for this information for my mission.

  2. With havin so much written content do you ever run into any issues ofplagorism or copyright infringement? My blog has a lot ofexclusive content I’ve either authored myself or outsourcedbut it looks like a lot of it is popping it up allover the web without my authorization. Do you know anymethods to help prevent content from being stolen? I’dgenuinely appreciate it.

  3. Today, while I was at work, my sister stole
    my apple ipad and tested to see if it can survive a 40 foot drop, just
    so she can be a youtube sensation. My iPad is now broken and she has 83 views.
    I know this is totally off topic but I had to share it with someone!

  4. Hi there! This post could not be written any better!
    Reading this post reminds me of my previous room mate!
    He always kept chatting about this. I will forward this article to him.
    Fairly certain he will have a good read. Thanks for sharing!

  5. Hello There. I discovered your blog using msn. That is a really well
    written article. I’ll make sure to bookmark it and come back to learn extra of your
    useful info. Thanks for the post. I’ll definitely return.

  6. Thank you, I’ve recently been looking for information approximately this topic for a long time andyours is the greatest I’ve discovered so far. However, what concerning the bottom line?Are you sure about the supply?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here