देखिए भारत की 10 सबसे खूबसूरत जगहें, जहां लोगों को घूमने की नहीं है इजाजत

499
Ten prohibited tourist places in India

हमारे देश की सुन्दरता उसके दर्शनीय स्थलों से अत्यधिक बढ़ती है। ये लोगों को अपनी तरफ आकर्षित करती है ताकि लोग इसे देखकर अपना मन हर्षित कर सकें। हमारे देश की खूबसूरती देखने के लिए हर वर्ष लाखों की संख्या में देशी-विदेशी लोग आते हैं। कुछ लोगों का मन तो मनोरम दृश्य को देखकर इस कदर खो जाता है कि उनका मन कहीं और जाने का नहीं करता।

अधिकतर लोगों के मन की यह भावना होती है कि हम इस खूबसूरत देश के दर्शनीय स्थलों का भ्रमण, बिना किसी इजाजत के कर सकते हैं और अपनी मर्जी से कहिं भी घूम सकते हैं। परंतु क्या आप जानते हैं कि हमारे देश में ऐसी बहुत सी स्थान है जहां जाना असंभव है??

Ten prohibited tourist places in India

कुछ खूबसूरत जगहों पर जाने की है मनाही

अगर आप ये नहीं जानते कि वह कौन-कौन-सी जगह है, जहां पर्यटक के जाने की मनाही है, तो हमारे इस लेख को अवश्य पढ़ें। उन 5 खूबसूरत टूरिस्ट डेस्टिनेशन को अगर आप देखना चाहते हैं, तो आप बिना परमिट वहां नहीं जा सकते। आइए जानते हैं उन स्थानों के बारे में जहां आप बिना परमिशन के नहीं जा सकते हैं और यहां जाना भी खतरे से खाली नहीं है।

Ten prohibited tourist places in India
  • पैंगोंग लेक का ऊपरी भाग

पैंगोंग लेक लद्दाख में स्थित है जो काफी खूबसूरत है। इस अलौकिक खूबसूरती से भरपूर जगह की सुंदरता को देखकर आप मोहित हो जाएंगे और यह निश्चय करेंगे कि हम इसे पूरा एक्सप्लोरर करें, परंतु ऐसा करना असंभव है। इसका कुछ ही हिस्सा टूरिस्ट के लिए ओपन हुआ है। यह लेक 134 किलोमीटर लंबी है एवं भारत से लेकर तिब्बत तक फैली हुई है। इसके हाफ पार्ट्स विवादित बॉर्डर के निहित में आते हैं।

Ten prohibited tourist places in India

लेना पड़ता है परमिट

सभी जगहों पर LAC जमीन पर ही होती है, परंतु यहां पानी के बीच से होकर गुजरती है। जहां सिर्फ मिलिट्री वालों को जाने का परमिशन है। वह भी उनके रूटिन विजिट पर ही। भारत में अगर कोई टूरिस्ट यहां घूमने आता है तो वह कुछ ही दूर तक जा सकता है। अगर वह आगे जाना चाहे तो इसके लिए उसे इनर लाइन परमिट भी लेना पड़ता है।

बॉर्डर विवाद के कारण लगा वैन

लद्दाख में “अक्साई चीन एवं स्टॉक कांगड़ी” टूरिस्टस के लिए क्लोज कर दिए गए हैं। वर्ष 2023 तक स्टॉक कांगड़ी से पर्यटकों को दूर रखने के लिए कहा गया है। बॉर्डर विवाद के कारण सिक्किम का चोलामू लेक भी अत्यधिक खूबसूरत होने के बावजूद भी पर्यटकों से दूर है। इन जगहों पर अधिकतर वही लोग जाते हैं जो लोकल एडमिनिस्ट्रेशन एवं आर्मी वाले हैं।

  • माउंट कंचनजंगा

कंचनजंगा सिक्किम में स्थित है, जो बहुत ही सुंदर स्थल है। यह दुनिया की तीसरी सबसे ऊंची चोटी है, जहां अधिकतर लोग जाने की ख्वाहिश रखते हैं। परंतु इस चोटी पर चढ़ने की मनाही है। अगर आप यहां जाना चाहते हैं, तो आपको नेपाल की तरफ से मौजूद भाग से ही एक सीमित सीमा तक भेजा जा सकता है। वर्ष 2001 में सिक्किम सरकार ने यहां जाने पर लोगों की रोक लगा दी थी, क्योंकि बौद्ध धर्म के व्यक्तियों ने चोटी पर चढ़ने को लेकर आपत्ति जताई थी।

Ten prohibited tourist places in India
  • बैरेन आइलैंड

बैरेन आइलैंड काफी खूबसूरत दर्शनीय स्थल है, जो अंडमान निकोबार में स्थित है। प्रत्येक वर्ष हजारों की संख्या में लोग अंडमान जाते हैं और आनंद पाते हैं परंतु अधिकतर लोगों को यह जानकारी नहीं होगी कि यहां भारत का एकलौता सक्रिय ज्वालामुखी है। साल 1991 में यहां विस्फोट हुआ था, जिसका प्रभाव यहां के पशु पक्षी और जानवरों एवं लोगों पर भी पड़ा था।

Ten prohibited tourist places in India

यहां बहुत से प्राकृतिक धरोहर स्थित

इसके बाद इस जगह पर बैन लगा दिया गया परंतु अगर आप इस आईलैंड को देखने की ख्वाहिश रखते हैं, तो आप यहां पर एक फेरी की सहायता से जा सकते है‌ लेकिन आपको इसे दूर से देखकर ही आनंद लेना होगा। ऐसा बताया गया है कि यहां पर कई प्राकृतिक धरोहर मौजूद हैं। जैसे- माल्टा रे, कोरल रीफ आदि।

  • नॉर्थ सेंटियल आइलैंड

नॉर्थ सेंटियल आइलैंड अंडमान में स्थित है। कुछ वक़्त पहले ही यह स्थान काफी चर्चा में आया हुआ था क्योंकि यहां एक अमेरिकी व्यक्ति को आदिवासियों ने तीर मार दिया था। जनगणना के अनुसार यहां पर लगभग 50 लोग होने चाहिए जो अपने झुंड में रहते हैं, परंतु ऐसा माना जाता है कि यहां करीब 1000 तक लोग हो सकते हैं। यहां पर स्थित लोग बाहरी दुनिया से कोई भी ताल्लुक नहीं रखना चाहते और वे गुफाओं में रहते हैं।

Ten prohibited tourist places in India

सरकार ने लगाया बैन

बहुत से लोगों ने यह प्रयास किया कि वे इनसे जुड़ सके परन्तु कोई सफल नहीं हुआ। वर्ष 2006 में सरकार ने यहां से 4 किलोमीटर रेडियस में बैन लगा। यहां कई बाहरी लोगों की मृत्यु भी हो चुकी है।

  • चीन द्वारा अधिग्रहित अरुणाचल पदेश
Ten prohibited tourist places in India

अरुणाचल प्रदेश के करीब 90,000sq.किलोमीटर एरिया पर चीन ने अपना हुकमत कायम किया है, जो एक गांव में तब्दील हो चुका है। इस इलाके को लेकर चीन और भारत में विभिन्न विवादित तर्क भी है। विवाद के कारण ही यहां कोई पर्यटक नहीं जाता एवं बिना आधिकारिक परमिशन के यहां जाना सम्भव भी नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here