दौसा के किसान ने अपनाया आधुनिक खेती, अब हो रही है लाखों की कमाई

652

हमारा देश आज के समय में काफी तरक्की कर चुका हैं देखा जाए तो आज हमारे देश में हमे कही तरह के बदलाव देखने को मिले है जैसे की हम सब देखते आए और सुनते आए हैं की भारत खेती बाड़ी में काफी आगे रहा। यह हर तरह की सब्जियों वे कही अन्य प्रदार्थ की खेती बाड़ी काफी समय से होती आ रही हैं लेकिन उस समय कृषि क्षेत्र में लोगो को कही तरह की मुश्किल और कही अड़चनों का सामना करना पड़ता था क्युकी उस समय हमारा भारत ने इतनी तरक्की नहीं की थी की जिससे वह खेती बाड़ी में आई अड़चनों का हल निकाल सके। क्युकी उस वक्त संसाधनों की कमी होने के कारण सरकार भी हाथ पे हाथ धरे बैठी रहती थी। किसानों का कहना है की खेती बाड़ी में कही बार पानी की वजह से फसल खराब होने लगती थी कही बार तो ऐसी भी मुश्किलें आई की उन्हे हानि का सामना कर काफी कर्ज लेना पड़ता था जिससे मुनाफा कम हानि ज्यादा होती थी। लेकिन आज समय बदला और कृषि क्षेत्र में काफी विकास हुआ। जहा पहले परम्परागत खेती (Traditional farming) होती थी। वही आज लोग आधुनिक खेती (Modern farming) की और रुख कर रहे हैं क्युकी परम्परागत खेती में किसानों को कही तरह की मुश्किलों का सामना करना पड़ता था जिससे काफी हानि होती थी लेकिन आज आधुनिक खेती (Modern Farming) जिसके वजह से आज किसान आसानी से खेती कर पा रहे और कही आधुनिक खेती से कही तरह की मुश्किलों के समाधान हुए।

आइए आज जानते हैं आज एक ऐसे व्यक्ति के बारे में जिन्होने विपरम्परागत खेती छोड़ अपना रुख आधुनिक खेती की और बड़ाया है जिससे आज वो लोगो को भी आधुनिक खेती के लिए जागरूक कर रहे हैं और आज वह अपनी आधुनिक खेती को लेकर काफी चर्चा में है……

**जानते हैं उस व्यक्ति के बारे में…….

आज एक ऐसे व्यक्ति जिसकी हम बात कर रहे है उनका नाम किसान विनेश जैमन (Farmer Vinesh Jamon) जो राजस्थान (Rajasthan) के दौसा (Dausa) के खवारावजी से तालुक रखते है। आज इन्होंने परम्परागत खेती (Traditional Farming) की खेती छोड अपनी जिंदगी में आधुनिक खेती (Modern Farming) को आजमा कर खेती कर रहे हैं क्युकी उनका कहना है की आज जितना मुनाफा वो आधुनिक खेती कर कमा रहे। उतनी कमाई उन्हे विपरम्परागत खेती में नही हुई थी। परम्परागत खेती करते समय उन्हे कही मुश्किलों का सामना करना पड़ता था जिसमे उन्हे खेती करने में कही तरह की अड़चने आती थी जिसको वजह से वो खेती सही ढंग से नही कर पाते थे।

यह भी पढ़ें:- अब मशरूम की खेती के लिए अधिक जगह की जरुरत नहीं, कम लागत में इस तरह मटके में उगाएं मशरूम

**शुरू की आधुनिक खेती……

काफी मे मुश्किलों का सामना कर अंत में किसान विनेश जैमन (Farmer Vinesh Jamon) ने परम्परागत खेती को छोड़ कर। अपना कदम आधुनिक खेती में रखा। जिसकी उन्होंने काफी जानकारी हासिल की और एक ऐसा पॉली हाउस बनाया (Poly House for farming) जिसमे उन्होंने टेक्निक का इस्तेमाल कर बारिश के पानी को इक्ट्ठा किया। क्युकी आए दिन हम पन्नी की काफी समस्या देखते है जिस कारण फसल खराब हो जाती थी और आधुनिक खेती में ऐसी टेक्निक का इस्तेमाल होने के बाद उस पानी को खेती में इस्तेमाल करने के लिए इक्ट्ठा किया।

Vinesh Jamon farmer of dausa, Rajasthan earning lakh rupees by Modern Farming

आधुनिक रूप से खेती करने पर किसान विनेश जैमन (Farmer Vinesh Jamon) कहते है की उन्हे अब कोई भी मुश्किलों का ज्यादा सामना नहीं करना पड़ता और अब उनका मुनाफा भी अच्छा खास होने लगा है जहा वो बड़ी मुश्किल से विपरम्परागत खेती से कमाई करते थे आज वो बड़े ही आराम से आधुनिक खेती से कमाई कर रहे है साथ ही साथ उनका कहना है की आधुनिक खेती में वो अब 4–4 महीने में खेती कर अच्छी कमाई कर रहे है।

**कलेक्टर साहब ने की काफी प्रशंसा…….

किसान विनेश जैमन (Farmer Vinesh Jamon) द्वारा की गई आधुनिक खेती और लोगो को आधुनिक खेती के लिए जागरूक करता देख। वहा के कलेक्टर साहब कमर उल जमान चौधरी (Qamar Ul Zaman Chaudhary) ने किसान विदेश की आधुनिक खेती का दौरा करना चाहा। क्युकी वह किसान विदेश द्वारा आधुनिक खेती को देखना और उसके बारे में जानकारी हासिल करना चाहते थे। उन्होंने किसान विनेश द्वारा बनाया गया पॉली हाउस देखा और उसमे उनके द्वारा की गई खीरे की खेती का दौरा किया और उसकी जानकारी हासिल की। जिसको देखने के बाद उन्होंने किसान विनेश जैमन को काफी प्रशंसा की।

यह भी पढ़ें:- कृषि फार्म को बना दिया एग्रो टूरिज़्म, आने वाले सभी लोगों को खिलाया जाता है शुद्ध भोजन

**कहा से मिली आधुनिक खेती की प्रेरणा……

जैसे की हम सब जानते हैं की परम्परागत खेती (Traditional farming) जो उस समय की जाती जब संसाधनों की काफी कमी हुआ करती थी। जिसमे कमाई भी काफी कम थी। उसके बाद जब किसान विनेश को जब खेती में काफी हानि होने लगी तब उन्होंने कृषि अधिकारी अशोक कुमार मीणा से आधुनिक खेती के बारे में जानकारी हासिल की और कही टेक्निक के बारे में जाना। जिसके बाद किसान विनेश ने उन्ही टेक्निक का इस्तेमाल कर आधुनिक खेती की शुरुवात की।

समय के बदलाव के साथ अब किसानों को परम्परागत खेती (Traditional Farming) को छोड़ कर आधुनिक खेती (Modern farming) का इस्तेमाल शुरू करना चाहिए। क्युकी आधुनिक खेती से किसानों को काफी मुनाफा होता है जिसमे हम काफी टेक्निक का इस्तेमाल कर कही तरह की खेती आसानी से कर सकतें हैं तो आधुनिक खेती के जरिए किसान अपनी खेती आसानी से कर पाएंगे और हर किसान एक दूसरे को जागरूक कर आधुनिक खेती की शुरुवात करे।

5 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here